देहरादून- प्रदेश में बढ़ते कोरोना डेथ रेट के बीच शासन का बड़ा फैसला, सभी सरकारी और निजी अस्पतालों को दिए ये निर्देश

 | 

प्रदेश में कोरोना से मौत के आंकड़े अचानक बढ़ने का कारण निजी अस्पतालों द्वारा इस संबंध में देर से एक साथ सूचना भेजना माना जा रहा है। इसे देखते हुए शासन ने सभी निजी अस्पतालों को कोरोना संक्रमित रोगियों की मृत्यु की सूचना प्रतिदिन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। बता दें कि प्रदेश में बीते कुछ दिनों में कोरोना संक्रमण से होने वाली मृत्यु के आंकड़े लगातार बढ़ रहे हैं। जब इसका अध्ययन किया गया तो यह बात सामने आई कि निजी अस्पताल मृत्यु का आंकड़ा प्रतिदिन न देकर एक साथ दे रहे हैं। इससे मृत्यु का ग्राफ एकदम बढ़ रहा है। 

Devi Maa Dental

स्टेट कंट्रोल रूम को भेजें डेटा

मामले में सचिव स्वास्थ्य अमित नेगी ने निजी अस्पतालों को पत्र लिखकर नाराजगी जताई है। साथ ही सभी सरकारी व निजी अस्पतालों को भेजे पत्र में सचिव ने कहा कि कुछ सरकारी व निजी अस्पताल उत्तराखंड स्टेट कंट्रोल रूम को कोरोना से होने वाली मृत्यु की सूचना नियमित रूप से प्रेषित नहीं कर रहे हैं। यह अत्यंत खेद का विषय है।

Bansal Saree

इससे मृत्यु संबंधित सही सूचना राज्य को नहीं मिल रही है। उन्होंने निर्देश दिए कि इलाज के दौरान संक्रमितों की मृत्यु होने की सूचना डेथ समरी समेत नियमित रूप से स्टेट कंट्रोल रूम को भेजी जाए। इसमें लापरवाही करने वाले अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक अथवा अधीक्षक के खिलाफ कोरोना महामारी की सुसंगत धाराओं में कड़ी कार्रवाई की जाएगी।