Mahalaxmi Kit Yojna: प्रदेश में शुरू हुई मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना, सीएम धामी ने किया शुभारंभ

 | 

उत्तराखंड में आज से 'मुख्यमंत्री महालक्ष्मी किट' योजना  शुरू हो गई है। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री आवास के जनता दर्शन हाल में आयोजित कार्यक्रम में इसे लॉन्च किया।सीएम ने यमुना कॉलोनी भूड़गांव की सुशीला को मुख्यमंत्री महालक्ष्मी किट देकर योजना का शुभारंभ किया। महिला सशक्तीकरण एवं बाल विकास विभाग की ओर से संचालित इस योजना में प्रसवोपरांत महिला और बेटी को महालक्ष्मी किट प्रदान की जा रही है। किट में बेडशीट, पोषणयुक्त आहार, डाइपर, सेनेटरी पैड आदि सामग्री शामिल है। कार्यक्रम में महिला सशक्तीकरण और बाल विकास मंत्री रेखा आर्य भी उपस्थित थीं। उन्होंने बताया कि प्रदेशभर में 50 हजार महिलाओं को इस योजना से लाभान्वित करने का लक्ष्य है।पहले दिन 16 हजार से अधिक महिलाएं इस योजना से लाभान्वित होंगी।

Bansal Saree

महिला सशक्तीकरण एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्य ने कहा कि प्रसव के बाद मां और कन्या शिशु की देखभाल को प्रोत्साहित करने के लिए इस योजना को शुरू किया गया है। योयोजना के तहत प्रसवोपरांत महिला को पहली दो बालिकाओं के जन्म पर एक-एक किट और जुड़वा बालिकाओं के जन्म पर महिला को एक और बच्चियों के लिए पृथक-पृथक दो किट दी जाएंगी। योजना का लाभ लेने के लिए आंगनबाड़ी केंद्र में पंजीकरण अनिवार्य है। आवेदन पत्र के साथ माता-शिशु रक्षा कार्ड की प्रति, संस्थागत प्रसव प्रमाण पत्र, यदि घर में प्रसव हुआ तो आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशा वर्कर या चिकित्सक द्वारा जारी प्रमाण पत्र, परिवार रजिस्टर की प्रति संलग्न करनी होगी। प्रथम, द्वितीय या जुड़वा कन्या के जन्म के संबंध में स्वप्रमाणित घोषणा पत्र के साथ ही नियमित सरकारी, अर्धसरकारी सेवा अथवा आयकरदाता न होने संबंधी प्रमाणपत्र भी देना होगा।