रुद्रपुर: राधा स्वामी सत्संग घर पहुंचे तीरथ, शासन प्रशासन देगा पूरी मदद

 | 

रुद्रपुर।  किच्छा मार्ग स्थित वैक्सीनेशन सेंटर राधा स्वामी सत्संग को जनसेवा के लिए शासन प्रशासन हर संभव मदद उपलब्ध कराएगा। यह बात प्रदेश के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत में आज किच्छा मार्ग स्थित राधा स्वामी सत्संग पहुंच कर लंगर सेवा एवं वैक्सीनेशन केंद्र सहित अन्य व्यवस्थाओं का निरीक्षण करने के पश्चात राधा स्वामी सत्संग के सेवादारों को आश्वस्त करते हुए कही।

Devi Maa Dental

 उन्होंने कहा कि वह सत्संग के सेवादारों द्वारा आम जनता की नि:स्वार्थ भावना से की जा रही सेवा से बहुत प्रभावित हुए हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार वैक्सीनेशन सेंटर एवं कोविड टेस्टिंग के लिए आयोजित कैम्पों की सहायता के लिए निरंतर मदद कर रही है। सभी के सामूहिक प्रयासों से ही आज प्रदेश में कोरोना के केस काफी कम होते जा रहे हैं। श्री रावत ने कहा कि सरकार जन सहयोग से कोरोना वायरस पर नियंत्रण पा रही है। अब प्रदेश को कोरोना वायरस की तीसरी लहर से बचाने के लिए सबको मिलकर कार्य करने की आवश्यकता है। इससे पूर्व श्री रावत का राधा स्वामी सत्संग पहुंचने पर भारत भूषण चुघ के साथ सचिव हरीश सेतिया, राम लाल पाहवा, वरुण मदान, सूरज कालड़ा, सतीश अरोरा, दीपक गुंबर, रवि वर्मा, संजीव गांधी,राजेंद्र गिरधर, परमजीत सिंह कटवाल, रतन लाल शर्मा व नरेंद्र अरोरा द्वारा माल्यार्पण कर स्वागत किया गया। राधा स्वामी सत्संग के सेवादार सचिव हरीश सेतिया ने मुख्यमंत्री श्री रावत को अवगत कराया कि राधा स्वामी सत्संग में पिछले करीब दो माह से वैक्सीनेशन कैंप लगाया जा रहा है। जहां सत्संग के सेवादारों व उनके परिजनों  सहित पूर्व में हजारों लोगों को वैक्सीन टीका लगाया जा चुका है और आज 2000 से भी ज्यादा 18 वर्ष आयु से अधिक के लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है और भविष्य में भी हजारों लोगों का टीकाकरण किया जायेगा। सेवादार भारत भूषण चुघ ने बताया कि कुमाऊँ  क्षेत्र में राधा स्वामी  सत्संग के 46 केंद्र है, जिनमें रुद्रपुर, नानकमत्ता, खटीमा, सितारगंज व गदरपुर में आज भी वैक्सीनेशन किया जा रहा है। श्री चुघ ने बताया कि गत वर्ष कोरोना महामारी के दौरान राधा स्वामी सत्संग को कोविड केंद्र के रूप में स्थापित किया गया था। जहां प्रतिदिन हजारों लोगों को आइसोलेशन में रखा गया और उन्हें भोजन, पानी, चिकित्सा आदि की मूलभूत सुविधाएं भी नि:शुल्क उपलब्ध कराई गई। उन्होंने कहा कि राधा स्वामी सत्संग से जुड़े सेवादार हमेशा तन, मन, धन से गरीब, असहाय व जरूरतमंद लोगों की सेवा के लिए तत्पर रहते हैं।श्री चुघ ने बताया कि गत वर्ष 26 मई को पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी राधा स्वामी सत्संग भवन का भ्रमण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया था और शासन की ओर से हर सम्भव मदद की थी। मुख्यमंत्री श्री रावत ने राधा स्वामी सत्संग के सेवादारों की सेवा भावना की मुक्त कंठ से सराहना की तथा कहा कि सत्संग भवन के सेवादारो को व्यवस्थाओं के संचालन में कोई भी आवश्यकता पड़ी तो प्रदेश सरकार हर तरह से मदद करेगी। राधा स्वामी सत्संग द्वारा जनपद के सभी केंद्रों में वैक्सीनेशन कैंप लगाना चाहे तो लगा सकती है। इसके लिए चिकित्सा विभाग द्वारा सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। इस मौके पर राजू नारंग, विशाल छाबड़ा,डॉ. नवजोत कौर चीमा, अरुण वर्मा, सुरेंद्र सेतिया, अनिल अरोरा, परिधि चुघ, गुरमीत नारंग, सोनिया कालड़ा, चरनजीत कौर,सिम्मी सेतिया, राजकुमार बत्रा, योगेंद्र अरोरा, संजीव पुजारा, राजकुमार जल्होत्रा, मुकेश चौहान, इंदर सिंह रंधावा, हितेश सेतिया, रोमी बत्रा, अनमोल कालड़ा व सचिन कटारिया,पार्षद बबलू सागर सहित राधा स्वामी सत्संग से जुड़े समस्त सेवादार व उनके परिजनों सहित कई गणमान्य लोग मौजूद थे।