कोरोना को मुँह और नाक में जाने से कैसे रोके :डॉ आँचल की देखिये हैल्थ टिप्स

 | 

रुद्रपुर। देशभर में कोरोना के आंकड़े लगातार डराने वाले हो रहे हैं। रोजाना औसतन 4 लाख कोरोना संक्रमित हो रहे हैं। अक्सर देखा गया है कि जो लोग कोरोना को मात दे देते हैं उनमें से कई लोग दोबारा भी कोरोना से संक्रमित हो सकते हैं, लेकिन अगर सावधानियां बरती जाए तो आप दोबारा कोरोना को अपने पास फटकने भी नहीं देंगे। सभी को जानकारी है कि कोरोना वायरस मुँह और नाक से शरीर में दाखिल होता है। दांतों की डॉक्टर आँचल ढींगरा ने बताया की कोविड के समय मुँह में कैसे सिम्टम्स दिखाई दे सकते हैं।

Devi Maa Dental


 डॉक्टर कहती हैं सामान्य लोग मुँह और नाक के लिए सावधानियां बरते तो कोरोना नजदीक नहीं आ सकता और जो लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं उसको क्या सावधानियां बरतनी चाहिए। डॉक्टर ने उन्हें भी सलाह दी है कि वह बीटाडीन से गार्गल और नाक में स्प्रे करें तो इन्फेक्शन से बचा जा सकता है।

अब जानी मानी डेंटिस्ट डाॅक्टर आंचल धींगड़ा से जानते हैं कि बीटाडीन से गार्गल और नाक में स्प्रे कैसे करना चाहिए और इसकी विधि क्या है। 

Bansal Saree

डॉक्टर आंचल की सलाह है कि अगर रोजाना बाहर से आने पर आप ऐसा करे। मुँह के लिए बीटाडीन और नाक के लिए स्प्रे कैसे बनाये उसको भी जान लीजियेगा। 100 एमएल की बाजार में बीटाडीन की शीशी मिलती है। इसमें से 15 एमएल बीटाडीन निकालकर गिलास में तीन गुना पानी यानी 45 एमएल पानी डाले और फिर 30 सेकेंड तक  गार्गल करे।  गार्गल के 10 से 15 मिनट तक कुछ न खाए। फिर 15 मिनट के बाद साधारण पानी से मुंह साफ करके ही कुछ खाएं। इससे मुँह में इंफेक्शन नहीं होगा।

अब बात करते हैं नाक के लिए स्प्रे कैसे बनेगा

डॉ आँचल कहती हैं नाक में हर दिन दो बार नमक के पानी का स्प्रे करें। मेडिकल शॉप से सेलाइन यानी नमक के पानी की 200 एमएल की बोतल खरीदे और उसमें 40 एमएल बीटाडीन में से मात्र 5 प्रतिशत तक बीटाडीन लेकर मिक्स करें और छोटे छोटे स्प्रे की शीशियां तैयार करें, जिससे ड्राप नाक में डाली जा सके।  इससे आप नाक के इंफेक्शन से भी बच सकते हैं।