हल्द्वानी- अनाथ बच्चों के लिए वात्सल्य योजना सराहनीय कदम, पूजा भोला नेे की तीरथ सरकार की प्रशंसा

 | 

 हल्द्वानी-ऑल इंडिया खत्री फाउंडेशन की उत्तराखंड अध्यक्ष पूजा भोला ने राज्य सरकार के हाल ही में राज्य सरकार द्वारा वात्सल्य योजना की घोषणा की प्रशंसा करते हुए राज्य के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को बधाई दी है और इस सराहनीय कदम के लिए शुभकामनाएं भी दी। पूजा भोला योजना के बारे में विस्तार से बताते हुए कहा कि इस योजना से कोविड-19 महामारी से अनाथ हुए बच्चों या फिर घर के एकमात्र कमाने वाले की मौत होने वाले आश्रितों को बड़ी राहत दी है। सरकार ऐसे बच्चों को 21 साल तक शिक्षा देने के साथ ही तीन हजार रुपये प्रतिमाह भरण पोषण के रूप में देगी। 
 
कोरोना काल में जिन बच्चों ने अपने माता-पिता को खोया, उन सभी को इस योजना के दायरे में लाया जाएगा। राज्य के ऐसे अनाथ बच्चों की आयु 21 वर्ष होने तक उनके भरण पोषण, शिक्षा के साथ-साथ रोजगार से पूर्व प्रशिक्षण की व्यवस्था भी सरकार करेगी। उन्होंने बताया कि अनाथ बच्चों की पैतृक संपत्ति के लिए नियम भी बनाए जाएंगे। इसके तहत  उनके वयस्क होने तक पैतृक संपत्ति बेचने का अधिकार किसी को नहीं होगा। यह जिम्मेदारी डीएम की होगी। 

Devi Maa Dental

इतना ही नहीं राज्य सरकार ने नौकरियों में पांच फीसदी आरक्षण का भी ऐलान किया, जिसमें कोविड महामारी के चलते अनाथ बच्चों को सरकारी नौकरियों में पांच फीसदी आरक्षण भी दिया जाएगा। जिन परिवारों में एकमात्र कमाने वाला था और कोरोना संक्रमण के चलते निधन हो गया। उन परिवारों को भी इसका लाभ दिया जाएगा। पूजा भोला ने कहा कि उत्तराखंड खत्री परिवार  सरकार के इस कदम में उनके साथ है