हल्द्वानी- डीआरडीओ द्वारा बनाया जाएगा 500 बेड का फैब्रिकेटेड हॉस्पिटल, दिल्ली से डीआरडीओ की टीम पहुंची हल्द्वानी

 | 

हल्द्वानी - कोविड के लगातार बढ़ रहे मरीजो को देखते हुए कुमाऊॅ के प्रवेश द्वार हल्द्वानी में स्थित राजकीय मेडिकल काॅलेज में 500 बेड का  एक और अस्पताल बनाया जायेगा। यह अस्पताल रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के सहयोग से बनेगा। जिलाधिकारी  धीराज सिंह गर्ब्याल ने इस अस्पताल को बनाये जाने के लिए डीआरडीओ के अधिकारियों से कुछ दिन पहले वार्ता की थी। मेडिकल काॅलेज परिसर में बनने वाले इस अस्पताल से काफी रहात मिलेगी और कुमाऊॅ भर से आने वाले कोरोना मरीजों को तत्परता से इलाज मिलेगा।

Devi Maa Dental


    बृहस्पतिवार को कर्नल त्यागी के नेतृत्व में डीआरडीओ की तीन सदस्यों की टीम के अधिकारियों द्वारा राजकीय मेडिकल काॅलेज में अस्पताल बनाये जाने सम्भावनाएं तलाशी तथा मेडिकल काॅलेज के अधिकारियों तथा प्रशासन के अधिकारियों के साथ काॅलेज परिसर का भ्रमण कर अस्पताल बनाये जाने के सम्बन्ध में गहनता से विचार विमर्श भी किया। जनकारी देते हुए मुख्य विकास अधिकारी नरेन्द्र सिंह भण्डारी ने बताया कि मेडिकल काॅलेज परिसर के बड़े मैदान में 500 बेड का कोविड अस्पताल बनाया जायेगा जिसमें 100 बेड आक्सीजन युक्त होगे तथा 125 आईसीयू बेड भी बनाये जायेगे। उन्होने बताया कि बनाने वाले इस अस्पताल में डाॅक्टर एवं पैरामेडिकल स्टाॅफ की तैनाती प्रदेश सरकार द्वारा की जायेगी। अस्पताल के स्ट्रेक्चर आदि का निर्माण डीआरडीओ करेगा जबकि इस अस्पताल के निर्माण लोनिवि सहयोग करेगा, बिजली एंव पेयजल लाईनों के निर्माण में विद्युत, जलसंस्थान तथा पेयजल निगम सहयोग करेगा। भण्डारी ने बताया फैब्रीकेटेड अस्पताल के निर्माण पर लगभग दस से पंद्रह करोड़ रूपये खर्च होने की सम्भवाना है। उन्होने बताया कि डीआरडीओ सदस्यों द्वारा निरीक्षण की रिर्पोट शासन को सौपी जायेगी। शासन से सहमति मिलने  के उपरान्त तेजी से इस अस्पताल का निर्माण प्रारम्भ कर दी जायेगा। 


    निरीक्षण के उपरान्त  सदस्यों द्वारा अधिकारियों के साथ सर्किट हाउस में बैठक कर अन्य व्यवस्थाओं के सम्बन्ध में चर्चा की। इस अवसर पर डभ्आरडीओ के चीफ कन्ट्रेक्शन इंजीनियर गगन बाधवा, मुख्य अभियंता लोनिवि दीपक यादव, प्राचार्य मेडिकल काॅलेज डाॅ.सीपी भैसोडा, उपजिलाधिकारी विवेक राय, सिटी मजिस्टेट ऋचा सिंह, अधीक्षण अभियंता जल संस्थान विशाल सक्सेना, अधिशासी अभियंता जल निगम आशोक कुमार कटारिया,सुधीर कुमार, अधिशासी अभियंता लोनिवि अशोक चैधरी, अधिशासी अभियंता विद्युत बीएस बिष्ट तथा अन्य अधिकारी मौजूद थे।     

Bansal Saree