हल्द्वानी-कोरोना ने वन विभाग पर ढाया कहर, एक माह में 11 अधिकरियों व कर्मचारियों की मौत

 | 

हल्द्वानी-कोरोना की दूसरी लहर ने उत्तराखंड वन विभाग के 11 अधिकरियों व कर्मचारियों की मई में मौत हो गई थी। इसमें वन संरक्षक से लेकर फॉरेस्टर पद पर तैनात लोग भी शामिल है। उत्तराखंड वन विभाग की वेबसाइट पर अब उन अधिकारी व कर्मचारियों का पूरा डिटेल अपलोड किया जा रहा है जिनकी कोरोना या फिर आग बुझाने के दौरान मौत हुई है।

Devi Maa Dental

मई में कोरोना ने अपना कहर मचाया। संक्रमितों की संख्या के साथ मौतों का ग्राफ  भी लगातार बढ़ रहा था। आम लोगों के साथ सरकारी विभाग के कर्मचारी भी तेजी से चपेट में आए। खासकर फील्ड ड्यूटी से जुड़े लोग। क्योंकि, उनका संपर्क ज्यादा होता है।कोरोना से मरने वालों में बीपी सिंह कंजरवेटर, किशोरी लाल फॉरेस्टर, दिवाकर कुकरेती रेंजर, भूपेंद्र नेगी फॉरेस्टर, शुक्ररानी देवी फॉरेस्टर, दिनेश चंद्र वरिष्ठ वैयक्तिक सहायकए, सुरेश छेत्री फॉरेस्टर, गौरी शंकर आर्य वरिष्ठ वैयक्तिक सहायक, मंगल सिंह रेंजर, दीपक रावत डिप्टी रेंजर, रमेश चंद्र उपाध्याय डिप्टी रेंजर का नाम शामिल है।