रुद्रपुर: एटीएम कार्ड बदल कर लाखों रुपए निकालने वाले तक इस तरह पहुंची पुलिस, एक गिरफ्तार

रुद्रपुर। एटीएम बदल कर खाते से 2-40 लाख रुपए निकालने के मामले में थाना आईटीआई पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के माध्यम से घटना में प्रयुक्त कार के चालक को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने कार भी बरामद कर ली है। पुलिस फरार दो अभियुक्तों की तलाश कर रही है। आईटीआई थाना क्षेत्र के ग्राम मुकंदपुर
 | 
रुद्रपुर: एटीएम कार्ड बदल कर लाखों रुपए निकालने वाले तक इस तरह पहुंची पुलिस, एक गिरफ्तार

रुद्रपुर। एटीएम बदल कर खाते से 2-40 लाख रुपए निकालने के मामले में थाना आईटीआई पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के माध्यम से घटना में प्रयुक्त कार के चालक को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने कार भी बरामद कर ली है। पुलिस फरार दो अभियुक्तों की तलाश कर रही है।

Devi Maa Dental

आईटीआई थाना क्षेत्र के ग्राम मुकंदपुर निवासी एक अमर सिंह बीती 29 अक्टूबर को परमानंदपुर स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा के एटीएम से रुपए निकालने गए थे। इस दौरान अज्ञात व्यक्ति ने धोखा देकर उनका एटीएम कार्ड बदल लिया। उनका फोन खराब होने के कारण उन्हें इस बात का पता नहीं चला कि उनके खाते से रुपए निकल रहे हैं। जब उनका फोन ठीक हुआ तो पता चला कि उनके बैंक खाते से सवा दो लाख रुपए निकल चुके हैं।

अमर सिंह ने घटना की रिपोर्ट दर्ज करायी तो आईटीआई के थानाध्यक्ष वीडी जोशी ने सीसीटीवी फुटेज खंगाले तो घटना में स्विफ्ट डिजायर UP-87-M-8042 का प्रयोग होना प्रकाश में आया। जिस आधार पर पुलिस द्वारा उक्त वाहन स्वामी से उसके निवास स्थान कासगंज यूपी में जाकर पूछताछ की तो उक्त वाहन को चालक मान पाल पुत्र अशर्फीलाल निवासी बिलराम गेट थाना कासगंज ले गया था। सटीक सुरागरसी करते हुए पुलिस ने अभियुक्त मान पाल उपरोक्त को वाहन डिजायर उपरोक्त सहित दौराने चेकिंग मुखबिर की सूचना पर लोहिया पुल से गिरफ्तार किया।

Bansal Saree

पूछताछ करने पर अभियुक्त मान पाल पुत्र अशर्फीलाल उपरोक्त ने घटना का इकबाल करते हुए बताया कि दिनांक 29 अक्टूबर को मैं अपने साथी अभियुक्त अजय उर्फ बबलू पुत्र रामवीर निवासी प्रह्लाद पुर थाना सोरों जनपद कासगंज व सुधाकर निवासी सोरों के साथ कासगंज से गाड़ी मालिक को झूठ बोलकर गाड़ी बुक करा कर रुद्रपुर आए थे और काशीपुर में एटीएम से एक सरदार जी का एटीएम चुरा लिया था जिससे हमने 2-24 लाख रुपए निकाल लिए थे। निकाले गए पैसे को हम तीनों ने बराबर आपस में बांट लिया था। उसमें से ₹40000 उसके पास हैं। बाकी मैंने खर्च कर दिए हैं। उक्त अभियुक्तों द्वारा पूर्व में भी इस प्रकार की कई घटनाओं को अंजाम दिया जा चुका है। पुलिस फरार दोनों आरोपियों की तलाश कर रही है।