रामनगर-फिर घास काटती महिला पर झपटा गुलदार, ऐसे बची जान

रामनगर-जिलेभर में गुलदार का आतंक थमने का नाम नहीं ले रह है। काठगोदाम से शुरू हुए गुलदार के हमले रामनगर से कोटाबाग समेत कई जगहों पर देखने को मिले है। इससे पहले काठगोदाम क्षेत्र में दो महिलाओं को गुलदार अपना निवाला बना चुका है। अब कार्बेट टाइगर रिजर्व के अंतर्गत बिजरानी रेंज में आमडंडा खत्ता
 | 
रामनगर-फिर घास काटती महिला पर झपटा गुलदार, ऐसे बची जान

रामनगर-जिलेभर में गुलदार का आतंक थमने का नाम नहीं ले रह है। काठगोदाम से शुरू हुए गुलदार के हमले रामनगर से कोटाबाग समेत कई जगहों पर देखने को मिले है। इससे पहले काठगोदाम क्षेत्र में दो महिलाओं को गुलदार अपना निवाला बना चुका है। अब कार्बेट टाइगर रिजर्व के अंतर्गत बिजरानी रेंज में आमडंडा खत्ता गांव निवासी राधा देवी महिलाओं के साथ घास लेने गई थी। इस बीच अचानक उस पर बाघ ने हमला कर दिया। गुलदार के हमले से चिल्लाने की आवाज सुनकर अन्य महिलाओं ने शोर मचाना शुरू किया। इसके बाद वह उसे छोडक़र चली गई।

Devi Maa Dental

देहरादून-2021 में इस दिन होगीं सैनिक स्कूल की प्रवेश परीक्षा, देखिये आवेदन की अंतिम तिथि
इसके बाद महिलाएं खून से लथपथ राधा देवी को गांव लाए। आनन-फानन में उसे परिजन सयुंक्त चिकित्सालय लेकर पहुंचे। प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सक घायल महिला को रेफरकर रहे हैं। गुलदार के हमले की सूचना पर रेंजर राजकुमार भी मौके पर पहुंच गए। गुलदार के हमले से लोगों को आक्रोश का माहौल है। पांच दिन पहले चोरपानी की दो महिलाओं पर भी हमला किया था। अब तक सीटीआर में दो महीने के भीतर यह सातवीं घटना है।