भीमताल-ओखलकांडा में आदमखोर का आतंक बरकरार, अब ऐसे बनाया तीसरी महिला को अपना शिकार

भीमताल- जिले के ओखलकांडा ब्लॉक में आदमखोर तेंदुए ने एक और महिला को अपना शिकार बना लिया। जिससे लोगों में भय का माहौल बना हुआ है। अब लोग बाहर जाने से भी डर रहे हैं। इसके पहले ओखलकांडा ब्लॉक में ही तेंदुआं तुषराड़ और कूकना गांव के बजवाल तोक में दो युवतियों का शिकार कर
 | 
भीमताल-ओखलकांडा में आदमखोर का आतंक बरकरार, अब ऐसे बनाया तीसरी महिला को अपना शिकार

भीमताल- जिले के ओखलकांडा ब्लॉक में आदमखोर तेंदुए ने एक और महिला को अपना शिकार बना लिया। जिससे लोगों में भय का माहौल बना हुआ है। अब लोग बाहर जाने से भी डर रहे हैं। इसके पहले ओखलकांडा ब्लॉक में ही तेंदुआं तुषराड़ और कूकना गांव के बजवाल तोक में दो युवतियों का शिकार कर चुका है। अब खेत में घास काट रही महिला पर घात लगाए बैठे तेंदुए ने हमला कर दिया। जिसके बाद तेंदुआं उसे घसीट कर जंगल में ले जाने लगा। ग्रामीणों ने महिला की चीख सुनकर शोर मचाया तो आदमखोर शव छोडक़र भाग गया। उसने महिला का पूरा शव खा लिया है। एक सप्ताह के भीतर आदमखोर ने तीसरी घटना को अंजाम दिया है। घटना को लेकर ग्रामीणों में रोष है।

Devi Maa Dental

हल्द्वानी-दहेज में 12 लाख देने के बाद बहू को घर से निकाला, अब हुई ये बड़ी कार्यवाही

ओखलकांडा ब्लॉक में आदमखोर तेंदुए का आतंक बरकरार है। तेंदुए ने एक हफ्ते के अंदर तीसरी महिला को मार डाला है। देहना ग्राम सभा निवासी खीमुली देवी पत्नी हरीश सिंह उम्र 45 वर्ष घर के आंगन के पास खेत में घास काट रही थी कि तभी तेंदुए ने उस पर हमला कर दिया। इसके बाद तेंंदुआ महिला को घसीटते हुए जंगल की ओर ले गया। इस दौरान ग्रामीणों ने हो हल्ला कर दिया। इस पर तेंदुआं खीमुली देवी को जंगल में छोड़ कर चला गया। तेंदुए ने खीमुली देवी का पुरा सिर खा लिया है।

Bansal Saree

नैनीताल-सोमवार को सीएम का नैनीताल दौरा, इस बड़े कार्यों का करेंगे लोकार्पण

भीमताल विधायक राम सिंह कैड़ा ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि क्षेत्र में यह तीसरी घटना है। इसके बावजूद चंपावत डीएफओ ने आज तक क्षेत्र का मुआयना नहीं किया, ना ही वहां कोई टीम भेजी गई। कैड़ा ने कहा कि क्षेत्र में तेंदुए का आतंक बरकरार है। वन विभाग के अधिकारी इसे गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। शीघ्र ही क्षेत्र में शिकारियों का दल नहीं भेजा गया तो आंदोलन किया जाएगा। तेंंदुए के आतंक से ग्रामीणों में भय का माहौल बना हुआ है।