देहरादून- उत्तराखंड में तेज़ बारिश का कहर, प्रदेश के मार्ग हुए बंद

 | 
उत्तराखंड में पिछले 72 घंटे से लगातार हो रही मूसलाधार बरसात का असर अब आम जन जीवन पर पड़ने लगा है। नैनीताल जिले की बात करें तो आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से जारी रिपोर्ट में पिछले 24 घंटे में जिले में 26.2 एमएम बरसात रिकॉर्ड की गई है। इसके अलावा इस बरसात की वजह से जिले के तीन राजमार्गों सहित 11 रास्ते बंद हैं। जिनको खुलवाने का सरकारी मशीनरी काम कर रही है। जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक बरसात की वजह से रामनगर- बेतालघाट राज्य मार्ग, रानी बाग – भीमताल राज्य मार्ग, और काठगोदाम -सिमलिया बैंड राजमार्ग बंद है जिनको लोक निर्माण विभाग के प्रांतीय खंड द्वारा जेसीबी मशीनों से खुलवाने का काम किया जा रहा है। इसके अलावा जिले के कई आंतरिक मार्ग भी बंद है जिनमें अमृतपुर- बानना, वजूद- अधौडा, मलूटी मार्ग, सुनकोट मोटर मार्ग, देवली- महतोली मोटर मार्ग सहित कई रास्ते बंद हैं। इसके अलावा जिले की गौला नदी, कोसी नदी और नंधौर नदी में भी जलस्तर बढ़ा है। वर्तमान में गौला नदी में 2525 क्यूसेक और कोसी नदी में 5922 क्यूसेक तथा नंदौर में 1325 क्यूसेक पानी चल रहा है। प्रशासन ने नदी के किनारे , नहरो, नालों व रपटों से लोगों को सावधान रहने की अपील की है।