हल्द्वानी- नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश की सरकार से मांग, अब इसलिए सरकार को सुनाई खरी-खरी

 | 

नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हृदयेश ने ब्लैक फंगस महामारी पर राज्य सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि ब्लैक फंगस (म्यूरोमाइकोसिस) को महामारी घोषित करने से ही काम नहीं चलेगा। इस बीमारी के इलाज के लिए इंजेक्शन का भी प्रबंधन करना चाहिए। डॉ. इंदिरा हृदयेश ने कहा कि राज्य सरकार ने ब्लैक फंगस को महामारी तो घोषित कर दिया है लेकिन इलाज के लिए इंजेक्शन उपलब्ध नहीं है। केंद्र सरकार की ओर से उत्तराखंड को 50 इंजेक्शन उपलब्धकराए गए थे जो कि इलाज में समाप्त हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि  राज्य में ब्लैक फंगस के रोगियों की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है।

Devi Maa Dental

55 व्यक्तियों में हो चुकी ब्लैक फंगस की पुष्टी

अब तक 55 व्यक्तियों में ब्लैक फंगस की पुष्टि हो चुकी है और सात को इस महामारी से जान गंवानी पड़ी है। जौलीग्रांट में ही दो मरीजों की मौत ब्लैक फंगस से हुई है जबकि 15 अभी भी ब्लैक फंगस से पीड़ित है। उन्होंने कहा कि ऋषिकेश एम्स में भर्ती दो मरीजों के फोन उनके पास आ रहे हैं और वे इंजेक्शन दिलवाने की गुहार लगा रहे हैं। इस पर उन्होंने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से वार्ता कर इंजेक्शन मुहैया कराने की मांग की है।  सीएम  से अपील है कि ब्लैक फंगस को महामारी घोषित करने से काम नहीं चलेगा, इसके इलाज के लिए इंजेक्शन भी मुहैया कराने होंगे।

Bansal Saree