हल्द्वानी- गरीबी की मार पड़ी तो बन गया स्मैक तस्कर, पढ़े लॉकडाउन ने कैसे बनाया मेडिकल बॉय को मुजरिम

 | 

पुलिस ने मंगलपड़ाव स्थित डीके पार्क से 73.80 ग्राम स्मैक बरामद की है। बरामद स्मैक की कीमत डेढ लाख रूपये से अधिक आंकी जा रही है। स्मैक बेचने के लिए बरेली से यहां आए युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसने पूछताछ में पुलिस को बताया कि वह लाक डउन में बेरोजगारी के चलते स्मैक की तस्करी में उतरा। पुलिस ने उसे अदालत में पेश करके जेल भेज दिया है।

Bansal Saree

मिली जानकारी के अनुसार मंलपड़ाव चौकी प्रभारी देवेंद्र बिष्ट एवं मंडी चौकी प्रभारी दिनेश चंद्र जोशी ने चैकिंग के दौरान मुखबिर की सूचना पर एसओजी की मदद से डीके पार्क से एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया। उसके हवाले से पुलिस को 73.80 ग्राम स्मैक बरामद हुई। गिरफ्तार युवक नरेश कुमार उपरोक्त ने पूछताछ में बताया कि वह रामलीला ग्राउण्ड पीपलसाना चौधरी भोजीपुरा बरेली का स्थाई निवासी है। उसने 12वीं की परीक्षा UP बोर्ड से पास की है।

उसके बाद उसने मेडिकल स्टोर में नौकरी की तथा कंस्ट्रक्शन का काम भी किया। दो माह पूर्व लॉक डाउन होने के कारण कंस्ट्रक्शन का काम सही नही चल पा रहा था, आजकल खर्चा चलाना मुश्किल हो रहा था। इसलिए उसने स्मैक का काम पैसे कमाने के लिए शुरू किया।