देहरादून-ग्राफिक एरा की मैत्री को गूगल में 54.80 लाख का पैकेज, फिर बजा ग्राफिक एरा का डंका

 | 

देहरादून-कोरोना को लेकर दुनिया भर से आ रही बुरी खबरों के बीच ग्राफिक एरा ने एक बार फिर चेहरे पर मुस्कान लाने वाला काम किया है। कोरोना की मार के कारण जब दुनिया में लाखों लोगों की नौकरियां खतरे में पड़ गई हैं, ग्राफिक एरा एक के बाद एक कामयाबी के झंडे फहरा रहा है। ग्राफिक एरा की एक छात्रा ने दुनिया की प्रमुख कम्पनी गूगल में 54.80 लाख रुपये के पैकेज पर प्लेसमेंट पाकर शिक्षा जगत को नई उम्मीदों से नवाजा है।

Devi Maa Dental


देहरादून निवासी मैत्री रावत को गूगल ने 54.80 लाख रुपये के पैकेज पर नियुक्ति ऑफर की है। मैत्री ने ग्राफिक एरा डीम्ड यूनिवर्सिटी से कम्प्यूटर साईंस में बीटेक किया है। बीटेक के अंतिम वर्ष में गूगल में प्लेसमेंट के लिए कोडिंग टेस्ट के बाद मैत्री के साक्षात्कारों का दौर शुरू हो गया था। अब गूगल ने मैत्री रावत का सॉफ्टवेयर इंजीनियर के पद पर प्लेसमेंट करने की घोषणा की है। मैत्री के पिता  मोहन सिंह रावत एयरफोर्स से अवकाश ग्रहण करने के बाद बैंक में कार्यरत हैं। वह मोहकमपुर में रहते हैं।

Bansal Saree

मैत्री को गूगल में यह गौरवान्वित करने वाले पैकेज पर प्लेसमेंट मिलने से पहले उसका यूनिवर्सिटी से ही कोग्नीजेंट, कैब जैमनाई, टीसीएस और इंफोसिस जैसी नामी कम्पनियों में भी सलैक्शन हो गया था। मैत्री ने इस कामयाबी का श्रेय ग्राफिक एरा की उच्च गुणवत्ता की शिक्षा और खुद क्लास लेने वाले ग्राफिक एरा ग्रुप के चेयरमैन डॉ. कमल घनशाला और अपने माता पिता को दिया है।


विख्यात कम्पनी गूगल में मैत्री रावत को शानदार प्लेसमेंट मिलने की घोषणा के बाद आज ग्राफिक एरा डीम्ड यूनिवर्सिटी में मैत्री और उनके पिता श्री मनमोहन रावत और मां दीपिका रावत को सम्मानित किया गया। ग्राफिक एरा एजुकेशनल ग्रुप के अध्यक्ष डॉ. कमल घनशाला ने मैत्री को शानदार भविष्य के लिए शुभकामनाएं देने के साथ ही एक लाख  रुपये का चैक भेंट किया। डॉ. घनशाला ने कहा कि दुनिया की सबसे नई टेक्नोलॉजी सिखाने की व्यवस्थाओं और विश्व स्तरीय फैकल्टी व प्रयोगशालाओं ने ग्राफिक एरा को युवाओं के ख्वाबों को हकीकत में बदलने वाली यूनिवर्सिटी बना दिया है। 


 इससे पहले पिछले हफ्ते अमेरिकी मूल की विख्यात कम्पनी माइक्रोसॉफ्ट ने ग्राफिक एरा के बी टेक कम्प्यूटर साईंस के छात्र दीपक सिंह रौतेला को 40.37 लाख रुपये सालाना के पैकेज पर प्लेसमेंट के लिए चुन लिया था। लॉकडाउन के दौरान प्लेसमेंट के कीर्तिमान बनाने वाले ग्राफिक एरा डीम्ड यूनिवर्सिटी और ग्राफिक एरा हिल यूनिवर्सिटी के छात्र-छात्राओं की एक के बाद एक बड़ी कामयाबी से युवाओं को नई आस बंधी है।