देहरादून-अस्थाई अस्पताल में बना प्रदेश का पहला चिल्ड्रन कोविड वार्ड, ऐसी मिलेंगी सुविधा

 | 

देहरादून- ऋषिकेश स्थित राइफल मैन जसवंत सिंह रावत अस्थाई अस्पताल में प्रदेश का पहला 90 बेड का चिल्ड्रन कोविड क्यूबिक वार्ड बनाया गया है। इसके अलावा अस्पताल में ब्लैक फंगस के मरीजों के लिए 90 बेड आरक्षित रखे गए हैं। प्रदेश में यह पहला अस्पताल होगा जहां परिजनों को रोजाना मरीजों की जानकारी उपलब्ध कराने के लिए रैबार विभाग भी बनाया गया है। अस्पताल में कोविड गाइडलाइन और विदेश के बड़े संस्थानों की चिकित्सा विधि के आधार पर मरीजों का उच्चस्तरीय इलाज किया जाएगा।

Devi Maa Dental

बता दे कि की तीसरी लहर के बच्चों के संक्रमित होने की आशंका और ब्लैक फंगस के बढ़ते मामलों ध्यान में रखते हुए राइफल मैन जसवंत सिंह रावत अस्थाई अस्पताल का निर्माण किया गया है। अस्थाई अस्पताल के प्रभारी और एम्स ट्रॉमा विभाग के सहायक प्रोफेसर डा मधुर उनियाल ने बताया कि अस्पताल में 90-90 बेड का चिल्ड्रन कोविड क्यूबिक वार्ड और म्यूकोरमाइकोसिस क्यूबिक कोविड वार्ड बनाया गया है।

हालांकि सामान्य कोविड मरीजों की संख्या के आधार पर चिल्ड्रन और म्यूूूकोरमाइकोसिस के वार्ड को घटाया बढ़ाया जा सकता है। अस्पताल की पहली प्राथमिकता कोविड संक्रमित को भर्ती कर उसका तत्काल इलाज शुरू करने की होगी।

Bansal Saree