देहरादून- तीरथ कैबिनेट की बैठक हुई खत्म, इन फैसलों पर लगी मुहर

 | 

वात्सल्य योजना को कैबिनेट से मिली हरी झंडी, कोविड में अनाथ बच्चों को लेकर है वात्सल्य योजना

Devi Maa Dental

शिल्पकार प्रोत्साहन योजना को 5 साल बढ़ाया गया

कोविड के चलते पर्यटन व्यवसाय को नुकसान के चलते व्यवसायियों को राहत देने के प्रस्ताव को मंजूरी, पर्यटन उद्योगों को हुए नुकसान की वजह से कर्मियों 2500 रुपये दो महीने के लिए। ट्रेवल्स, टूर ऑपरेटर, राफ्टिंग, गाइड,को आर्थिक सहायता। पर्यटन में नवीनीकरण शुल्क माफ 200 करोड़ से ज्यादा खर्च।

Bansal Saree

हल्द्वानी में अस्पताल में निर्माण को लेकर कार्यदाई संस्था का गठन का फैसला लिया गया।

साहुकारी अधिनियम में संशोधन किया।

कोविड की स्थिति को देखते हुए मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना (अतिशुक्ष्म नैनो उद्ध्यम) योजना को स्वीकृति, 20 हजार लोगों को फायदा, 10 करोड़ का खर्च, 5 करोड़ हंस फाउंडेशन देगा। छोटे कार्यों को बढ़ावा।10 हजार से 15 हजार के प्रोजेक्ट पर 5 हजार की सब्सिटी।

केदारनाथ मास्टर प्लान में ळडटछ के ध्वस्तीकरण कर उन्हें प्रसासनिक भवन बनाने की मंजूरी।

बद्रीनाथ धाम में 100 करोड़ के निर्माणकार्य

उच्च शिक्षा की नियमावली में संसोधन, लाइब्रेरियन में 25 बचो का सलेक्शन।

हरिद्वार में होटल अलकनंदा के निर्माण में लेबर सेस को छोड़कर 49 लाख माफ किया गया।

जिला प्राधिकरण में संसोधन , ग्रामीण क्षेत्रो में नक्शा पास कराने की मंजूरी।

उत्तरकाशी में तेखला में न्याय विभाग के भवन को विश्वनाथ भवन के पास चूक की भूमि से बदला गया।