देहरादून-चार साल में ईमानदारी के साथ भ्रष्टाचार मुक्त विकास किया: त्रिवेंद्र, लोगों को दी नव हिंदू वर्ष की बधाई

 | 

देहरादून- पूर्व मुख्यमंत्री और डोईवाला विधायक त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि उनकी सरकार ने चार साल में पूरी ईमानदारी के साथ कार्य किया। प्रदेश को भ्रष्टाचार मुक्त विकास देने का कार्य किया है। चार साल में उनकी सरकार साफ  सुथरी और बेदाग रही। धर्मपुर चौक स्थित शिव मंदिर के हाल में भाजपा धर्मपुर मंडल द्वारा उनके सम्मान में आयोजित कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्री ने यह बात कही। कार्यकर्ताओं में नया जोश भरते हुए पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह ने प्रदेश के सभी लोगों को नए हिंदू वर्ष, नवरात्रि, बैशाखी और महाकुंभ पर्व की शुभकामनाएं और बधाई दी। उन्होंने कहा कि चार साल के दौरान व्यस्तता की वजह से कार्यकर्ताओं और उनके बीच एक दूरी बन गई थी। अब उन्हें ईश्वर ने उन्हें अवसर दिया है। अब वह कार्यकर्ताओं के बीच जाकर उस अंतर को पाटने का कार्य कर रहे हैं। 

Devi Maa Dental


 उन्होंने कहा कि उनके चार साल के कार्यकाल में उन्होंने पूरी ईमानदारी के साथ सरकार चलाने का कार्य किया। यही नहीं उनके साथ सरकार के अंग तौर पर अन्य संस्थाओं ने भी उसी ईमानदारी के साथ कार्य कर सरकार को अधिक राजस्व देने का कार्य किया। उनका मानना है कि जब हम पूरी ईमानदारी और लगन से कार्य करते हैं तो उससे संस्थाएं मजबूत होती हैं। पूर्व मुखयमंत्री ने कहा कि वह संगठन के समर्पित कार्यकर्ता हैं। उन्होंने कभी भी किसी भी पद की इच्छा नहीं जताई। लेकिन फिर भी पार्टी ने उन्हें चार साल तक प्रदेश की सेवा का मौका दिया। इस दौरान उन्होंने ईमानदार सरकार देने की पूरी कोशिश की। प्रदेश के चहुंमुखी विकास की सोच के साथ काम किया। नवजात शिशु से लेकर आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों और कुपोषित बच्चों को पोषित करने के लिए कई योजनाएं चलाई। जच्चा-बच्चा के स्वस्थ जीवन के लिए उन्होंने सौभाग्यवती योजना के जरिए गर्भवती माताओं के लिए किट देने की योजना की शुरूआत की। अब सरकार ने उसका नाम बदलकर महालक्ष्मी योजना कर दिया है।
 
सीएम त्रिवेंद्र ने कहा कि नदियों के पुनर्जीवन के लिए भी उनकी सरकार ने महत्वपूर्ण कार्य किया। आज उसके परिणाम सामने हैं। प्रदेश में हल्द्वानी को छोडक़र सभी शहरों में भूजल का स्तर काफी बढ़ गया है। सौंग बांध के जरिए देहरादून के लोगों को ग्रेविटी वाटर देने के लिए योजना पर भी कार्य किया। इस योजना से अगले 100 साल तक देहरादून के लोगों को पेयजल तो मिलेगा ही साथ ही दून के भू-जल स्तर में भी वृद्धि होगी। उन्होंने कहा कि संघ ने भी नए हिंदू वर्ष से भूमि संरक्षण के कार्य को अपने हाथ में लिया है। जिससे जमीन की उर्वरकता क्षमता में वृद्धि हो सकें। आज कैमिकल से कृषि खेती में उत्पादन क्षमता में वृद्धि करने का प्रयास किया जा रहा है लेकिन वह हमारे स्वास्थ्य के लिए कितना घातक है इसे हमें समझना होगा।
 
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि हम सभी पार्टी के कार्यकर्ता हैं और हमने पार्टी को मजबूत किया है। आगे भी सभी को पार्टी को मजबूती के लिए कार्य करना है। हमारी पार्टी की एक विचारधारा है। उस विचारधारा को आगे बढ़ाने के लिए सभी को अपना योगदान देना है। राजनीति शुद्ध रहे, राजनीति अच्छी रहे, इसके लिए कार्यकर्ताओं की ज्यादा जिम्मेदारी है। उस जिम्मेदारी को निभाने के लिए हमें पूरी ईमानदारी से कार्य करना होगा।  इससे पहले मुख्यमंत्री ने धर्मपुर मंडल के रणजीत भंडारी के नव हिंदू वर्ष के कलेंडर का भी विमोचन किया। कार्यक्रम में मंडी परिषद के अध्यक्ष राजेश शर्मा, वन निगम के अध्यक्ष सुरेश परिहार, रुद्रपुर नगर निगम के मेयर रामपाल सिंह, मंडल अध्यक्ष सुभाष यादव, महिला मंडल अध्यक्ष कमली भट्ट मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन गणेश सिलमाना ने किया। इससे पूर्व सभी कार्यकर्ताओं ने जोरदार नारेबाजी के साथ पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत का जोरदार स्वागत किया।