देहरादून- शीतकाल के लिए चतुर्थ केदार रुद्रनाथ धाम के कपाट बंद, पढिय़े क्या है यहां की मान्यता

देहरादून- आज चतुर्थ केदार रुद्रनाथ धाम के कपाट शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए हैं। अब रुद्रनाथ भगवान की उत्सव डोली शाम तक गोपेश्वर पहुंचेगी। पुजारी महादेव भट्ट ने परंपरा के अनुसार धाम के कपाट बंद किए। रुद्रनाथ धाम पंच केदारं में शामिल है। यहां भगवान शिव के मुख के दर्शन होते है जो
 | 
देहरादून- शीतकाल के लिए चतुर्थ केदार रुद्रनाथ धाम के कपाट बंद, पढिय़े क्या है यहां की मान्यता

देहरादून- आज चतुर्थ केदार रुद्रनाथ धाम के कपाट शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए हैं। अब रुद्रनाथ भगवान की उत्सव डोली शाम तक गोपेश्वर पहुंचेगी। पुजारी महादेव भट्ट ने परंपरा के अनुसार धाम के कपाट बंद किए। रुद्रनाथ धाम पंच केदारं में शामिल है। यहां भगवान शिव के मुख के दर्शन होते है जो पंच केदार शिव मंदिरों का सामूहिक नाम है।

Devi Maa Dental

देहरादून-बगैर अनुमति के नहीं कर पायेंगे कोरोना का उपचार, किया तो डॉक्टरों पर होगीं ये कार्यवाही

बता दें कि चमोली जिले में समुद्रतल से 11808 मीटर की ऊंचाई पर स्थित चतुर्थ केदार रुद्रनाथ धाम स्थित है। विगत 18 मई को ब्रह्ममुहूर्त में मंदिर के कपाट खोले गए थे। कोरोना महामारी के चलते इस बार पंचकेदार पहुंचने वाले श्रद्धालुओं की संख्या भी ना के बराबर रही, लेकिन रुद्रनाथ धाम में लगातार श्रद्धालु की आवाजाही बनी रही। शुक्रवार तक धाम में 9176 श्रद्धालु बाबा के दर्शनों को पहुंच चुके थे। वन विभाग को 50 हजार रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ। अगले छह माह बाबा रुद्रनाथ अपने भक्तों को दर्शन देंगे।

Bansal Saree