देहरादून-बगैर अनुमति के नहीं कर पायेंगे कोरोना का उपचार, किया तो डॉक्टरों पर होगीं ये कार्यवाही

देहरादून- मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के मद्देनजर व्यापक जनजागरूकता और संवेदनशील प्रशासन पर ध्यान देने की जरूरत है। आयुष विभाग ने प्री-कोविड और पोस्ट कोविड के लिए आयुष किट व अन्य व्यवस्थाएं की हैं। उन्होंने कहा कि यह इसका प्रचार-प्रसार भी किया जाना चाहिए। उन्होंने जिलाधिकारियों को यह भी
 | 
देहरादून-बगैर अनुमति के नहीं कर पायेंगे कोरोना का उपचार, किया तो डॉक्टरों पर होगीं ये कार्यवाही

देहरादून- मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के मद्देनजर व्यापक जनजागरूकता और संवेदनशील प्रशासन पर ध्यान देने की जरूरत है। आयुष विभाग ने प्री-कोविड और पोस्ट कोविड के लिए आयुष किट व अन्य व्यवस्थाएं की हैं। उन्होंने कहा कि यह इसका प्रचार-प्रसार भी किया जाना चाहिए। उन्होंने जिलाधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि यदि जिलों में कोविड के लिए अधिकृत डॉक्टरों के अलावा अन्य कोई डॉक्टर कोविड मरीजों को दवा देता है तो ऐसे मामलों में सख्त कार्रवाई की जाय। उन्होंने टू- नॉट टेस्टिंग बढ़ाने पर भी जोर दिया।

Devi Maa Dental

देहरादून- केदारनाथ में उतरा चिनूक हेलीकॉप्टर , ऐसे उठा ले गया एमआई-17 हेलीकाप्टर का मलबा
स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी ने जिलों में कोविड कंट्रोल रूम मैनेजमेंट पर विशेष ध्यान देने को कहा। उन्होंने जनसामान्य की विभिन्न समस्याओं से संबंधित प्राप्त हो रही शिकायतों का त्वरित समाधान करने, होम आइसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों को स्वास्थ्य किट उपलब्ध कराने, कोविड केयर सेंटरों में स्वच्छता, सैनिटाइजेशन, खान-पान व स्वास्थ्य की दृष्टि से आवश्यक व्यवस्थाएं सुचारू करने के निर्देश भी दिए। सैंपल पैंडेंसी न हो। एंटीजन टेस्ट में सिम्टोमैटिक पाए जाने वाले व्यक्तियों का आरटी.पीसीआर टेस्ट अवश्य कराया जाए।