देहरादून-अब प्रदेश के बच्चों को नहीं जाना पड़ेगा पढ़ाई के लिए बाहर, एनआईटी ने जगाई नई उम्मीदें

देहरादून-सुमाड़ी में एनआईटी के स्थाई कैम्पस के लिए 909.85 करोड़ रूपए की स्वीकृति पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डा. रमेश पोखरियाल निशंक का आभार व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि राज्य सरकार अपने व्यय पर संस्थान के लिए बिजली व पानी की व्यवस्था
 | 
देहरादून-अब प्रदेश के बच्चों को नहीं जाना पड़ेगा पढ़ाई के लिए बाहर, एनआईटी ने जगाई नई उम्मीदें

देहरादून-सुमाड़ी में एनआईटी के स्थाई कैम्पस के लिए 909.85 करोड़ रूपए की स्वीकृति पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डा. रमेश पोखरियाल निशंक का आभार व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि राज्य सरकार अपने व्यय पर संस्थान के लिए बिजली व पानी की व्यवस्था करेगी और सङक़ का निर्माण करेगी। आज प्रदेशवासियों की लम्बे समय से चली आ रही मांग पूरी हुई है। एनआईटी के स्थाई कैम्पस के निर्माण से प्रदेश में क्वालिटी एजुकेशन को बढ़ावा मिलेगा। साथ ही क्षेत्रवासियों की आर्थिकी भी मजबूत होगी।

Devi Maa Dental

देहरादून-अब प्रदेश के बच्चों को नहीं जाना पड़ेगा पढ़ाई के लिए बाहर, एनआईटी ने जगाई नई उम्मीदें
इसके अलावा सीएम ने कहा कि अब विरोधियों के मुंह बंद हो चुके है। वहीं विपक्षियों की बातों में आकर जो लोग जाने-अनजाने में शंका में थे उनकी शंका भी दूर हो चुकी है। सीएम ने कहा कि जो हमारे राज्य के बच्चे जयपुर राजस्थान में पढ़ रहे है। अब हमारे राज्य के बच्चे यही पढ़ेगे। उन्हें बाहरी राज्यों मेंं पढ़ाई के लिए नहीं जाना पड़ेगा।