देहरादून- पूर्व सीएम हरदा की सरकार ने मांग, बढ़ते कोरोना संक्रमण के लिए इन्हें ठहराया जिम्मेदार

 | 

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत ने प्रदेश सरकार से गांवों में तेजी से फैल रहे संक्रमण पर ध्यान देने का आग्रह किया है। रावत ने इशारा किया कि कुंभ व अन्य आयोजनों की वजह से भी कई जगह संक्रमण फैला है। इसको ध्यान में रखते हुए कांटेक्ट ट्रेसिंग की जा सकती है। हरीश रावत के मुताबिक धारचूला से लेकर मंगलौर तक के गांवों में उनकी ओर से संक्रमण बढ़ने का कारण पता करने की कोशिश की गई थी। लोगों ने बताया कि कई जगह संक्रमण कुंभ में शामिल होकर लौटने वालों की वजह से भी फैला।

Devi Maa Dental

संक्रमण फैलाने में प्रवासियों का नहीं कोई दोष

उनकी माने तो कुछ स्थानों पर राजनीतिक लोग कुंभ में गांव वालों को लेकर गए थे। इसी तरह कुंभ में ड्यूटी करने वाले पीआरडी जवान और अन्य लोग वापस लौटने पर संक्रमित पाए गए। कई लोग देव डोलियों के साथ स्नान करने के लिए हरिद्वार आए और लौटने पर संक्रमित पाए गए। हरीश रावत का यह भी कहना है कि टनकपुर आदि क्षेत्रों में पूर्णागिरी और अन्य मेलों की वजह से संक्रमण में इजाफा हुआ है। 

Bansal Saree

ऐसे में गांवों में सिर्फ प्रवासियों को संक्रमण के लिए दोष देना ठीक नहीं है। सरकार को कुंभ और अन्य मामलों में भी ध्यान देना चाहिए था और उस हिसाब से रणनीति बनानी चाहिए थी। पूर्व सीएम हरदा ने कोरोना का टीका लगाने वालों को भी सावधान रहने को कहा है। रावत के मुताबिक टीका संक्रमण के प्रभाव को बहुत हद तक कम कर रहा है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि संक्रमण के प्रति बेपरवाह हुआ जाए। मास्क और सामाजिक दूरी के नियमों का पालन जरूरी है।