देहरादून-एसटीएफ ने दबोचा ईनामी बदमाश, इतने साल से चल रहा था फरार

देहरादून-उत्तराखण्ड एसटीएफ टीम ने गैंगस्टर एक्ट में फरार चल रहे 5000 का ईनामी व रुद्रपुर का शातिर लूटेरा जो कि पिछले तीन वर्षों से फरार चल रहा था, उसे गिरफ्तार करने में बड़ी सफलता प्राप्त की है। उत्तराखण्ड पुलिस द्वारा पुलिस महानिदेशक के निर्देशों पर ईनामी बदमाशों के खिलाफ गिरफ्तारी अभियान चलाये जाने के दौरान
 | 
देहरादून-एसटीएफ ने दबोचा ईनामी बदमाश, इतने साल से चल रहा था फरार

देहरादून-उत्तराखण्ड एसटीएफ टीम ने गैंगस्टर एक्ट में फरार चल रहे 5000 का ईनामी व रुद्रपुर का शातिर लूटेरा जो कि पिछले तीन वर्षों से फरार चल रहा था, उसे गिरफ्तार करने में बड़ी सफलता प्राप्त की है। उत्तराखण्ड पुलिस द्वारा पुलिस महानिदेशक के निर्देशों पर ईनामी बदमाशों के खिलाफ गिरफ्तारी अभियान चलाये जाने के दौरान इस सफलता को प्राप्त किया है।

Devi Maa Dental

हरिद्वार-महाकुंभ में शामिल होने से पहले इस वेबसाइट पर कराना होगा पंजीकरण, तभी मिलेंगी इंट्री

उत्तराखण्ड एसटीएफ की एक टीम लगातार उत्तराखण्ड के सीमावर्ती जिलों में इनामी बदमाशों की तलाश में सक्रिय थी। 6 अप्रैल को उत्तराखण्ड स्पेशल टास्क फोर्स को सूचना प्राप्त हुई कि रुद्रपुर का बदमाश तथा उधम सिंह नगर के 5000 रूपये का शातिर ईनामी कुणाल सैनी उर्फ़ केशव सैनी पुत्र सुरेंद्र सैनी, निवासी ग्राम मटकोटा रोड भूरारानी, रुद्रपुर उधम सिंह नगर गुरुग्राम गुडग़ांव में है।

Bansal Saree

इस पर एसटीएफ की कुमॉऊ यूनिट को सतर्क कर प्रभारी निरीक्षक एमपी सिंह के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया। जिसके बाद सूचना पर एक टीम गुरुग्राम गुडग़ांव भेजी गई। एसटीएफ टीम को शातिर अपराधी के सम्बन्ध में जानकारी मिली थी। कुणाल सैनी उर्फ़ केशव सैनी पुत्र सुरेंद्र सैनी, निवासी ग्राम मटकोटा रोड भूरा रानी रुद्रपुर उधम सिंह नगर गुरुग्राम गुडग़ांव में किसी फैक्ट्री में छिपकर नौकरी कर रहा है। जहां पर गुरुग्राम पुलिस की मदद से कुणाल सैनी उपरोक्त को एक फैक्ट्री से गिरफ्तार किया गया। रुद्रपुर से फरार होकर गुरुग्राम गुडग़ांव में एक फैक्ट्री मे नौकरी कर रहा था। तथा गुरुग्राम गुडग़ांव में रह रहा था।