देहरादून- पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र ने की सीएम तीरथ से फोन पर बात, ग्राम प्रधानों के लिए इन अधिकारों की करी मांग 

 | 

पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि पहाड़ों और ग्रामीण क्षेत्रों में जिस प्रकार देखा जा रहा है कि वहां लोगों में संक्रमण का दायरा बढ़ता जा रहा है। इस संक्रमण का उन्हें बाद में पता चल रहा है। जिसके कारण कई लोगों की मौत भी हो रही है, उन्होंने कहा कि हमें कोरोना की दस्तक को नियंत्रित करना होगा ताकि कोरोना की चेन तोड़ी जा सके। इसके लिए ग्राम प्रधानों को चालान करने के अधिकार के साथ-साथ एवं सीमित अवधि के लिए गांवों में क्वॉरेंटाइन केंद्रों को बनाने के भी अधिकार दिए जा सकते हैं। 

Devi Maa Dental

सीएम तीरथ से हुई बात

पूर्व सीएम की माने तो ऐसा करने से काफी हद तक कोरोना संक्रमण को नियंत्रित किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि हमें RTPCR की टेस्टिंग को बढ़ाना होगा और टेस्ट की लंबित रिपोर्ट के समय को भी कम करना होगा। उन्होंने कहा कि इन महत्वपूर्ण विषयों के चलते हम इस संक्रमण को काफी कद तक काबू कर सकते हैं। कहा कि इन महत्वपूर्ण विषयों को लेकर उनकी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से फ़ोन पर वार्ता भी हुई है। उन्होंने कहा कि जनता की पीड़ा हमारी पीड़ा है और हमारा पूरा प्रयास है कि इस संकटकाल में कोई भी नागरिक स्वास्थ्य सुविधाओं से वंचित ना हो। 

Bansal Saree

जीवन के साथ-सथा रखें जीवीका का ख्याल

वही लॉकडाउन पर पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री पहले ही कह चुके हैं कि हमें जीवन भी बचाना है और जीविका भी, इसलिए जो लोग अपने रोजमर्रा के कार्यों को लेकर अपने परिवार की रोजी रोटी चलाते हैं उनका भी सरकार को ख्याल रखना है। इसलिए जीवन के साथ साथ जीविका का भी सरकार को ख्याल रखना है।