हल्द्वानी- कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया ने किसानों का ऐसे उठाया दर्द, कही ये बात

कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया ने कहा सरकार की दीन दयाल किसान कल्याण कारी योजना महज़ मीठा ज़हर है। इससे किसान का क़र्ज़ बढ़ेगा क्योंकि सरकार किसान की कृषि पैदावर को ख़रीदने में विफ़ल रही है। उनकी माने तो बिना ब्याज का ऋण सुनने में अच्छा लग रहा है, मगर जब किसान अपनी फ़सल ही
 | 
हल्द्वानी- कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया ने किसानों का ऐसे उठाया दर्द, कही ये बात

कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया ने कहा सरकार की दीन दयाल किसान कल्याण कारी योजना महज़ मीठा ज़हर है। इससे किसान का क़र्ज़ बढ़ेगा क्योंकि सरकार किसान की कृषि पैदावर को ख़रीदने में विफ़ल रही है। उनकी माने तो बिना ब्याज का ऋण सुनने में अच्छा लग रहा है, मगर जब किसान अपनी फ़सल ही नही बेच पाएगा तो मूल ऋण जो फ़सल पेदा करने में खर्च किया गया उसको कैसे चुकाएगा। माननीय उच्च न्यायालय नैनीताल के आदेश कि सरकार 48 घण्टे से एक सप्ताह के भीतर रबी व ख़रीफ़ फ़सल का किसानो को भुगतान करे के बावजूद सरकार ने आज 39 दिन बाद भी किसानो की ख़रीफ़ फ़सल का भुगतान नही किया। इससे सरकार की कथनी और करनी का पता चलता है।

Bansal Saree

कर्ज में डूबता जा रहा किसान

उनकी माने तो कुंवरपुर में 500 पंजीकृत किसानो में से महज़ 140 किसानो का ही धान ख़रीदा गया। उसके बाद कुँवरपुर किसान सेवा सहकारी समिति में खोले गए धान क्रय केन्द्र को बन्द कर दिया गया जिससे बाँकी 260 किसान अपनी फ़सल बेचने को भटक रहे हैं। ऐसे में किसान क़र्ज़ में डूबता जा रहा है। जिनका धान ख़रीदा गया उसके भुगतान तो भविष्य के गर्त में है, ऐसे में किसान नई फ़सल लगाने के लिये ऋण लेने को मजबूर है।

दीपक बल्यूटिया ने कहा यदि मुख्यमंत्री ईमानदारी से किसानो का कल्याण करना चाहते हैं तो शीघ्र किसानो की फसलों का बकाया का भुगतान क्यों नही करते। उनकी माने तो सीएम द्वारा पूर्व में की गई घोषणाएँ एक कदम भी आगे नही बढ़ पाई हैं। दीपक बल्यूटिया ने कहा अकूक संपदा से परिपूर्ण उत्तराखण्ड राज्य को आज बिसनेस माडल राज्य बनाने की आवश्यकता है ,जिससे उत्तराखण्ड राज्य एक आत्म निर्भर राज्य बनकर दुनिया के लिये मिसाल बन सके।

Devi Maa Dental