देहरादून- खटीमा के राकेश ने जरुरतमंदो की मदद कर पाया मुकाम, ऐसे बने देवभूमि के प्रसिद्ध समाजसेवी

 | 
राकेश कुमार उत्तराखंड के एक प्रसिद्ध युवा सामाजसेवी है। जो पेशे से एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर है। राकेश का जन्म उधमसिंह नगर जिले के खटीमा में 22 अक्टूबर 1997 को हुआ। कुमार छोटी उम्र से ही सामाजिक कार्यों में बहुत रुचि रखते थे। वे उत्तर प्रदेश सलेमपुर में रहते और पले-बढ़े और बाद में वे उत्तराखंड आगए उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा सरस्वती विद्या मंदिर, उच्च शिक्षा से प्राप्त की, लेकिन पढ़ाई में ज्यादा दिलचस्पी नहीं होने के कारण उन्होंने पढ़ाई छोड़ दी। जिसके बाद राकेश सामाजिक गतिविधियों को सीखने के लिए देहरादून गए और पांच साल तक देहरादून में रह कर जरुरमंदो की मदद की। सामाजिक कार्यकर्ता राकेश कुमार बहुत जल्द पूरे भारत देश में एक परोपकारी व्यक्ति बन गए हैं। उन्होंने उत्तराखंड से अपना काम शुरू किया जिसके बाद उन्होंने देश के अलग-अलग हिस्सों में लोगों की सेवा की और जमीनी स्तर पर काम करते हुए सभी को सही शिक्षा और सही रास्ते का संदेश दिया है। मौजूदा समय में राकेश कुमार ने कई नई योजनाएं जरुरतमंदो के लिए शुरु की है।