भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी ऋषभ पंत कोरोना पाजिटिव, लक्षण नहीं दिख रहे लेकिन रिपोर्ट पाजिटिव

एकांतवास में रहेंगे टीम के साथ डरहम नहीं जाएंगे पंत

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी ऋषभ पंत कोरोना पाजिटिव पाए गए हैं। हालांकि उनमें लक्षण नजर नहीं आ रहे हैं लेकिन रिपोर्ट पाजिटिव आने के बाद उन्‍हें एकांतवास दिया गया है।

Bansal Saree

विकेट कीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत इंग्लैंड के मौजूदा दौरे पर कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं और वह भारतीय टीम के साथ डरहम नहीं जाएंगे। भारतीय टीम इंग्लैंड के खिलाफ अगले महीने से पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला खेलेगी। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के सूत्र ने पुष्टि की है कि पॉजिटिव पाए गए खिलाड़ी पंत हैं और पिछले आठ दिनों से उन्हें अलग-थलग रखा गया है। सूत्र के अनुसार इस समय उनमे लक्षण नजर नहीं आ रहे हैं।

सूत्र ने बताया कि वह अपने एक परिचित के यहां पृथकवास पर है और गुरुवार को टीम के साथ डरहम की यात्रा नहीं करेगा।सूत्र ने हालांकि यह नहीं बताया कि यह 23 वर्षीय खिलाड़ी कब टीम के साथ जुड़ेगा। न्यूजीलैंड के खिलाफ पिछले महीने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के बाद खिलाड़ियों को ब्रेक दिया गया था। भारत ने यह मुकाबला गंवा दिया था। बीसीसीआई उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला ने गुरुवार को बताया, ”हां, एक खिलाड़ी पॉजिटिव पाया गया है लेकिन वह पिछले आठ दिनों से अलग-थलग है। वह टीम के साथ किसी होटल में नहीं है, इसलिए कोई अन्य खिलाड़ी प्रभावित नहीं हुआ।

Devi Maa Dental

शुक्ला ने कहा, ”अब तक कोई और खिलाड़ी पॉजिटिव नहीं पाया गया है। आपको जानकारी होगी कि हमारे सचिव जय शाह ने सभी खिलाड़ियों को पत्र लिखकर नियमों का पालन करने को कहा है।समझा जा रहा है कि पंत वायरस के डेल्टा प्रकार से संक्रमित है जिसके कारण इंग्लैंड में संक्रमण के मामलों में इजाफा हो रहा है। उन्हें पिछले महीने यूरो फुटबॉल चैंपियनशिप के मुकाबले के दौरान स्टेडियम में देखा गया था और उन्होंने सोशल मीडिया पर अपनी तस्वीर भी पोस्ट की थी।

शाह ने अपने पत्र में खिलाड़ियों को भीड़-भाड़ वाले इलाकों में जाने से बचने को कहा था क्योंकि टीम के खिलाड़ियों को लगाए गए कोविशील्ड टीके से सिर्फ संक्रमण से बचाव हो सकता है, यह वायरस के खिलाफ पूर्ण प्रतिरोधक शक्ति नहीं देता।

शाह ने अपने पत्र में विशेष तौर पर लिखा था कि खिलाड़ी हाल में यहां संपन्न हुई विंबलडन टेनिस चैंपियनशिप और यूरो चैंपियनशिप में जाने से बचें। भारतीय टीम को इंग्लैंड के खिलाफ चार अगस्त से पांच टेस्ट की श्रृंखला खेलनी है। टीम इससे पहले 20 जुलाई से अभ्यास मैच भी खेलेगी। भारत और इंग्लैंड के बीच इस मुकाबले के साथ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के दूसरे चक्र की शुरुआत होगी।

हाल में इंग्लैंड की टीम को भी कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों का सामना करना पड़ा था जिसके कारण उसकी मुख्य टीम पृथकवास पर चली गई और उसे पाकिस्तान के खिलाफ सीमित ओवरों की श्रृंखला के लिए नई टीम चुननी पड़ी।