सीनियरों ने मुझे निडर होकर खेलने का मनोबल दिया : मनप्रीत

टोक्यो, 19 जुलाई (आईएएनएस)। भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह ने कहा है कि सीनियरों ने उनको निडर होकर खेलने का मनोबल दिया है।
 | 
सीनियरों ने मुझे निडर होकर खेलने का मनोबल दिया : मनप्रीत टोक्यो, 19 जुलाई (आईएएनएस)। भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह ने कहा है कि सीनियरों ने उनको निडर होकर खेलने का मनोबल दिया है।

ओलंपिक में हिस्सा लेने के लिए टोक्यो पहुंचे मनप्रीत ने कहा, जब मैं पहली बार टीम इंडिया में आया तो इगनेसी तिर्की, तुषार खांडकेर, शिवेंद्र सिंह, सरदार सिंह, गुरबज सिंह, सरवनजीत सिंह और संदीप सिंह जैसे खिलाड़ी थे।

Bansal Saree

उन्होंने कहा, इन सभी खिलाड़ियों ने बिना डर के खेलने का मनोबल मुझे दिया। अगर शुरूआत में मुझे कोई गलती होती तो भी ये लोग मेरा समर्थन करते और प्रेरित करते थे। मेरे जैसे युवाओं के लिए उस समय राष्ट्रीय टीम में अच्छा माहौल था।

मनप्रीत 2014 एशिया खेल, 2011 और 2018 एशिया चैंपियंस ट्रॉफी टूर्नामेंट में विजेता टीम तथा 2015 और 2017 एफआईएच वर्ल्ड लीग में कांस्य पदक जीतने वाली टीम का हिस्सा थे।

Devi Maa Dental

मनप्रीत को पहली बार 2017 में सीनियर टीम का हिस्सा बनाया गया और उनके नेतृत्व में टीम ने एफआईएच वर्ल्ड रैंकिंग में ऊंचा स्थान प्राप्त किया।

अपनी कप्तानी को लेकर मनप्रीत ने कहा, मैंने अपने से पहले के अनुभवी खिलाड़ियों और टीम के कप्तानों से काफी कुछ सीखा है। इस टीम में हमारी संस्कृति है जहां सीनियर और जूनियर खिलाड़ियों में कोई अंतर नहीं है।

-- आईएएनएस

एसकेबी/आरजेएस