लग रहा था कि पांचवें टेस्ट में मोड़ आएगा : लॉयड

मैनचेस्टर, 11 सितम्बर (आईएएनएस)। इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर डेविड लॉयड का कहना है कि उन्हें ऐसा लग रहा था कि भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाले पांचवें टेस्ट मैच में कोई मोड़ आएगा।
 | 
लग रहा था कि पांचवें टेस्ट में मोड़ आएगा : लॉयड मैनचेस्टर, 11 सितम्बर (आईएएनएस)। इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर डेविड लॉयड का कहना है कि उन्हें ऐसा लग रहा था कि भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाले पांचवें टेस्ट मैच में कोई मोड़ आएगा।

भारत और इंग्लैंड के बीच सीरीज का पांचवां और आखिरी मुकाबला भारतीय कैंप में बढ़ते मामले की वजह से अंतिम समय में रद्द किया गया था।

लॉयड ने डेली मेल के लिए लिखे कॉलम में कहा, ईसीबी ने गुरूवार को जब सात बजे घोषणा की कि मैच होगा तो मैंने श्रीमती लॉयड से कहा कि अभी मोड़ आना बाकी है। मैं इसलिए निश्चित था कि भारत एक दिन पहले अभ्यास सत्र में नहीं गया। मेरे मन में विचार आया कि हम नहीं खेल रहे हैं। आप नहीं खेल सकते अगर टीम ने मैच से एक दिन पहले अभ्यास नहीं किया है।

Bansal Saree

उन्होंने कहा, इस बारे में चौथे टेस्ट के खत्म होने के बाद कयास लगाए जा रहे थे। इस बात को बल उस वक्त मिला जब टीम के कोच रवि शास्त्री और अन्य स्टाफ कोरोना पॉजिटिव पाए गए। क्या इन्होंने किसी से कहा कि ये लंदन में किताब की लांचिंग में शामिल हुए थे।

लॉयड का मानना है कि अनुभवी तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन इंग्लैंड में अपने घरेलू मैदान पर अपना अंतिम टेस्ट खेलने का मौका चूक गए हैं।

लॉयड ने कहा, यह हो सकता है कि भारत ने अपनी प्रतिबद्धता को पूरा करने और अंतिम टेस्ट खेलने से इनकार कर दिया और एंडरसन को एक ऐसे मैदान पर अंतिम खेल से वंचित कर दिया, जिसके एक छोर पर उनका नाम है। लेकिन क्षति उससे कहीं अधिक गहरी है और एंडरसन की व्यक्तिगत स्थिति को आकस्मिक बना देती है।

Devi Maa Dental

--आईएएनएस

एसकेबी