क्या कोहली से छीनी जाएगी सीमित ओवरों की कप्तानी?

मुंबई, 10 सितम्बर (आईएएनएस)। भारतीय टीम अगर इस साल अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 विश्व कप को जीतने में असफल रही तो टीम के कप्तान विराट कोहली से सीमित ओवरों की कप्तानी छीनी जा सकती है और उनकी जगह यह जिम्मा रोहित शर्मा को सौंपा जा सकता है।
 | 
क्या कोहली से छीनी जाएगी सीमित ओवरों की कप्तानी? मुंबई, 10 सितम्बर (आईएएनएस)। भारतीय टीम अगर इस साल अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 विश्व कप को जीतने में असफल रही तो टीम के कप्तान विराट कोहली से सीमित ओवरों की कप्तानी छीनी जा सकती है और उनकी जगह यह जिम्मा रोहित शर्मा को सौंपा जा सकता है।

कोहली टेस्ट क्रिकेट में सफल रहे हैं लेकिन उनके नेतृत्व में टीम सीमित ओवरों के आईसीसी इवेंट को जीतने में असफल रही है।

क्रिकेटएडिक्टर डॉट कॉम की रिपोर्ट के अनुसार, टीम इंडिया के कप्तान कोहली की कप्तानी लाइन पर हो सकती है जब वह आगामी टी20 विश्व कप में भारतीय टीम का नेतृत्व करेंगे। कोहली कई बार जांच के दायरे में आए हैं, खासकर एक मजबूत टीम होने के बावजूद आईसीसी प्रतियोगिता जीतने में उनकी विफलता के बाद इस संभावना को देखा रहा है।

Bansal Saree

वेबसाइट ने कहा कि बीसीसीआई के शीर्ष अधिकारी इंग्लैंड में विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में न्यूजीलैंड से भारत की हार के बाद से इस मुद्दे पर चर्चा कर रहे हैं, जहां वे कथित तौर पर भारतीय कप्तान के टीम चयन से नाखुश थे। कोहली ने डब्ल्यूटीसी फाइनल के दौरान तेज गेंदबाजों के अनुकूल और ओवरकास्ट परिस्थितियों में दो स्पिनरों को खेलाया था।

रिपोर्ट के अनुसार, बीसीसीआई कोहली की कप्तानी को लेकर काफी चिंतित है, खासकर आईसीसी टूर्नामेंटों में क्योंकि वह आईसीसी आयोजनों में एक कप्तान के रूप में विफल रहे हैं। डब्ल्यूटीसी फाइनल के बाद जुलाई में बीसीसीआई पदाधिकारियों की बैठक में यह सामने आया कि बीसीसीआई के कई अधिकारी कोहली की कप्तानी से संतुष्ट नहीं हैं।

Devi Maa Dental

बैठक में बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली, उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला, सचिव जय शाह और कोषाध्यक्ष अरुण धूमल शामिल थे। डब्ल्यूटीसी फाइनल में दो स्पिनरों के साथ आगे बढ़ने का निर्णय बीसीसीआई अधिकारियों के साथ बहुत अच्छा नहीं रहा और इसलिए, यह चर्चा हुई कि टी20 विश्व कप कोहली के लिए आखिरी मौका हो सकता है, खासकर सीमित ओवरों के प्रारूप में।

विभाजित कप्तानी पर बहुत बहस हुई है, जहां कोहली को टेस्ट कप्तान बने रहने और रोहित को सीमित ओवरों के कप्तान का जिम्मा देने पर चर्चा हुई। खासकर जब से उन्होंने इंडियन प्रीमियर लीग में मुंबई इंडियंस की अगुवाई करते हुए अभूतपूर्व सफलता हासिल की है।

इस साल मई में, भारत के पूर्व मुख्य चयनकर्ता किरण मोरे ने कहा था कि टीम कोहली और रोहित के बीच तीनों प्रारूपों के लिए विभाजित कप्तानी देख सकती है।

--आईएएनएस

एसकेबी