Rheumatoid Arthritis: क्या है रूमेटाइड अर्थराइटिस, जानें इसके लक्षण और  इलाज 

 | 

Rheumatoid Arthritis : आज की दौड़ती-भागती जिंदगी में कई तरह की ऐसी बीमारियां हैं, जो इंसान के आसपास रहती हैं और कब किसे अपना शिकार बना लें कुछ कहा नहीं जा सकता। इसी कड़ी में एक बीमारी है रूमेटाइड अर्थराइटिस।रूमेटाइड अर्थराइटिस एक सूजन संबंधित विकार है जिसमें न सिर्फ जोड़ों पर असर पड़ता है बल्कि शरीर के तंत्र, त्वचा, आंखों, लंग्स, दिल और खून की धमनियों पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है। इस बीमारी का इलाज लंबे समय तक या जिंदगी भर चल सकता है। यह एक ऑटोइम्यून बीमारी है जिसमें शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता स्वस्थ कोशिकाओं को ही नुकसान पहुंचाना शुरू कर देती है। रूमेटाइड अर्थराइटिस यानी गठिया के मरीजों को घुटनों, पीठ, कलाई, एड़ियों और गर्दन के जोड़ों में दर्द होता है। वहीं, इस बीमारी की चपेट में खासकर बुजुर्ग आते हैं। हालांकि, अपनी खराब लाइफस्टाइल के कारण अब इस बीमारी का शिकार युवा भी हो रहे हैं। वहीं, अगर इस बीमारी को हल्के में लिया जाए और इसका समय रहते इलाज न कराया जाए तो ये जोड़ों और हड्डियों के अलावा आंखों, त्वचा और हमारे फेफड़ों जैसे कई अंगों को प्रभावित कर सकती है। तो चलिए जानते हैं इस बीमारी के बारे में और इसके लक्षण से लेकर इलाज तक के बारे में।

Devi Maa Dental

 

रूमेटाइड अर्थराइटिस के लक्षण

Bansal Saree

-कमजोरी होना
-हल्का बुखार आना
-भूख न लगना
-मुंह और आंखों का सूखना
-शरीर में गांठ बनना
-सुबह-सुबह शरीर के किसी अंग में लंबे समय तक अकड़न महसूस करना। हालांकि, ये अकड़न शरीर की मूवमेंट के अनुसार ठीक हो जाती है।

गठिया के दौरान किन बातों का रखें ध्यान

 कभी-कभी ऐसे रोगियों को भी सर्दी या बरसात के दौरान दर्द होता है, जो चिकित्सकीय सलाह ले चुके हैं या घुटने की सर्जरी करवा चुके हैं ऐसे में डॉक्टर के पास जाकर आप लक्षणों को बेहतर तरीके से समझेंगे. विशेषज्ञ आपकी मेडिकल प्रोफाइल का विश्लेषण करेंगे और उसके अनुसार सावधानी बताएंगे, जैसे व्यायाम, फिजियोथेरैपी, सही आहार, पूरक, आदि, ताकि सर्दियों के दौरान हड्डियां मजबूत रहें