शांति मिशन-2021 एससीओ सैन्य अभ्यास में भाग लेने पहुंची 8 देशों की सेनाएं

बीजिंग, 11 सितम्बर (आईएएनएस)। शांति मिशन-2021 शांगहाई सहयोग संगठन (एससीओ) के संयुक्त आतंकवाद-रोधी सैन्य अभ्यास में भाग लेने वाले आठ देशों के 4 हजार से अधिक सैनिक 11 सितंबर को अभ्यास क्षेत्र यानी रूस के ऑरेनबर्ग ओब्लास्ट राज्य के रूसी रक्षा मंत्रालय के तीसरे केंद्रीय वैज्ञानिक अनुसंधान संस्थान के वायु रक्षा विज्ञान परीक्षण क्षेत्र पहुंचे। यह अभ्यास 11 से 25 सितंबर तक आयोजित होगा। एससीओ के ढांचे के भीतर यह 14वां संयुक्त अभ्यास है। चीन, रूस, कजाकस्तान, ताजिकिस्तान, किर्गिस्तान, भारत, पाकिस्तान और उजबेकिस्तान सहित आठ एससीओ सदस्य देश लगभग 4 हजार सैनिक भेजकर इस अभ्यास में भाग लेंगे।
 | 
शांति मिशन-2021 एससीओ सैन्य अभ्यास में भाग लेने पहुंची 8 देशों की सेनाएं बीजिंग, 11 सितम्बर (आईएएनएस)। शांति मिशन-2021 शांगहाई सहयोग संगठन (एससीओ) के संयुक्त आतंकवाद-रोधी सैन्य अभ्यास में भाग लेने वाले आठ देशों के 4 हजार से अधिक सैनिक 11 सितंबर को अभ्यास क्षेत्र यानी रूस के ऑरेनबर्ग ओब्लास्ट राज्य के रूसी रक्षा मंत्रालय के तीसरे केंद्रीय वैज्ञानिक अनुसंधान संस्थान के वायु रक्षा विज्ञान परीक्षण क्षेत्र पहुंचे। यह अभ्यास 11 से 25 सितंबर तक आयोजित होगा। एससीओ के ढांचे के भीतर यह 14वां संयुक्त अभ्यास है। चीन, रूस, कजाकस्तान, ताजिकिस्तान, किर्गिस्तान, भारत, पाकिस्तान और उजबेकिस्तान सहित आठ एससीओ सदस्य देश लगभग 4 हजार सैनिक भेजकर इस अभ्यास में भाग लेंगे।

मौजूदा सैन्याभ्यास में चीनी पक्ष के महानिदेशक चाओ खांगफिंग ने कहा कि यह अभ्यास एससीओ के ढांचे के भीतर एक नियमित अभ्यास है। इसका उद्देश्य सदस्य देशों के बीच रक्षा और सुरक्षा सहयोग को गहरा करना, नई चुनौतियों और खतरों का जवाब देने की क्षमता में सुधार करना और संयुक्त रूप से क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा बनाए रखना है।

Bansal Saree

( साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग )

--आईएएनएस

एएनएम