काबुल के बुश मार्केट का नाम बदलकर मुजाहिदीन बाजार रखा गया

नई दिल्ली, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। काबुल शहर के बुश मार्केट, का नाम जो पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति के नाम पर था, दुकानदारों ने इसका नाम बदलकर मुजाहिदीन बाजार कर दिया, ताकि यह ग्राहकों, विशेष रूप से मुजाहिदीन या तालिबान को आकर्षित करे। यह जानकारी खामा प्रेस ने दी।
 | 
काबुल के बुश मार्केट का नाम बदलकर मुजाहिदीन बाजार रखा गया नई दिल्ली, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। काबुल शहर के बुश मार्केट, का नाम जो पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति के नाम पर था, दुकानदारों ने इसका नाम बदलकर मुजाहिदीन बाजार कर दिया, ताकि यह ग्राहकों, विशेष रूप से मुजाहिदीन या तालिबान को आकर्षित करे। यह जानकारी खामा प्रेस ने दी।

अभी यह स्पष्ट नहीं है कि बाजार का नाम बदलने का आदेश तालिबान ने दिया था या दुकानदारों ने खुद नाम बदल दिया। लेकिन घटनास्थल से ली गई तस्वीरों से पता चलता है कि बाजार के दुकानदार नए नाम का बोर्ड लटकाए हुए हैं।

इससे पहले, तालिबान ने हामिद करजई अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे का नाम काबुल अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे, बुरहानुद्दीन रब्बानी विश्वविद्यालय का नाम काबुल शैक्षिक विश्वविद्यालय और मसूद स्क्वायर का नाम काबुल में सार्वजनिक स्वास्थ्य चौक में बदल दिया था।

Bansal Saree

बुश मार्केट अफगानिस्तान में स्थित अमेरिकी सैनिकों के सैन्य कपड़े, जूते, इलेक्ट्रॉनिक्स, जंपर्स, प्रोटीन और पेय बेचने के लिए जाना जाता था, इसलिए इसका नाम अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति के नाम पर रखा गया था।

--आईएएनएस

एसजीके/एएनएम