मानुषी छिल्लर : लड़कियों के अधिकारों के लिए पुरुषों, महिलाओं का मुखर होना जरूरी है

मुंबई, 11 अक्टूबर (आईएएनएस)। बॉलीवुड डेब्यूटेंट मानुषी छिल्लर ने सोमवार को अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस पर, बालिकाओं के अधिकारों के बारे में मुखर होने की आवश्यकता के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए सोशल मीडिया पर खुलकर अपने विचारों को साझा किया।
 | 
मानुषी छिल्लर : लड़कियों के अधिकारों के लिए पुरुषों, महिलाओं का मुखर होना जरूरी है मुंबई, 11 अक्टूबर (आईएएनएस)। बॉलीवुड डेब्यूटेंट मानुषी छिल्लर ने सोमवार को अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस पर, बालिकाओं के अधिकारों के बारे में मुखर होने की आवश्यकता के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए सोशल मीडिया पर खुलकर अपने विचारों को साझा किया।

मानुषी ने कहा कि मुझे लगता है कि पुरुषों और महिलाओं का लड़कियों के अधिकारों के बारे में मुखर होना महत्वपूर्ण है। यह एक सच्चाई है कि महिलाओं को अपनी मंजिल पाने के लिए पहुंचने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है।

उन्होंने आगे कहा कि महिलाओं को सत्ता अपने हाथों में लेनी होगी और इस धारणा को आकार देना होगा कि एक लड़की को खुद को कैसे देखना चाहिए। यह अवसरों से भरी दुनिया है और रूढ़िवादिता केवल बेहतर भविष्य और बेहतर जीवन के लिए बेड़ियों का काम करती है। यह समय उन रूढ़ियों को तोड़ने का है।

Bansal Saree

मानुषी ने इंटरनेट पर लड़कियों से स्वतंत्र रूप से व्यक्त करने का आग्रह किया। उन्होंने बताया कि एक लड़की होने के नाते वे कैसा महसूस करती हैं और वे अपने अधिकारों के लिए कैसे मुखर होना चाहेंगी।

मानुषी ने कहा कि मैं हमेशा बालिकाओं के समान अधिकारों के लिए मुखर रही हूं और अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर, मैं इस मुद्दे पर अधिक से अधिक ध्यान आकर्षित करने के लिए सोशल मीडिया की शक्ति का उपयोग करूंगी। मैं चाहती हूं कि दुनिया को यह दिखाने के लिए साथी रचनात्मक लोगों के साथ सहयोग करें कि हम समान अधिकारों को कैसे समझते हैं, और हम, महिलाओं के रूप में, कैसा दिखना चाहते हैं।

वर्क फ्रंट पर बात करें तो मानुषी, ऐतिहासिक पृथ्वीराज से सुपरस्टार अक्षय कुमार के साथ बड़े पर्दे पर अपनी शुरूआत करने के लिए तैयार हैं।

--आईएएनएस

एमएसबी/आरजेएस