देवोलीना भट्टाचार्जी : संयुक्त परिवार में रहने से मैं मजबूत बनी

मुंबई, 15 मई (आईएएनएस)। 15 मई को विश्व परिवार दिवस के रूप में मनाया जाता है, यह दिन जागरूकता बढ़ाने और परिवार के महत्व को बढ़ावा देने का है।
 | 
देवोलीना भट्टाचार्जी : संयुक्त परिवार में रहने से मैं मजबूत बनी मुंबई, 15 मई (आईएएनएस)। 15 मई को विश्व परिवार दिवस के रूप में मनाया जाता है, यह दिन जागरूकता बढ़ाने और परिवार के महत्व को बढ़ावा देने का है।

टीवी स्टार देवोलीना भट्टाचार्जी ने बताया कि एक संयुक्त परिवार में रहने से वह दुनिया का सामना करने के लिए तैयार हुई।

उन्होंने कहा, असम में मेरे गृहनगर में हम अभी भी एक संयुक्त परिवार के साथ रहते हैं। व्यक्तिगत रूप से एक संयुक्त परिवार में रहने का मतलब है कि सभी चाचा, चाची और चचेरे भाइयों के साथ रहना। लेकिन, किसी प्रियजन की खुशी के लिए हमारी जरूरतों का त्याग करना, और छोटी चीजों पर लड़ना आपको दुनिया के लिए तैयार करता है। संयुक्त परिवार अभी भी भारत में प्रबल हैं, लेकिन संख्या कम हो गई है। हम एक परिवार के रूप में हमेशा एकजुट होते हैं।

krishna hospital

उन्होंने आगे कहा, मुझे खुशी है कि मैं भारत जैसे देश से संबंध रखती हूं, जो हमेशा अपनी समृद्ध संस्कृति और एक संयुक्त परिवार में रहने की प्रणाली के लिए जाना जाता है। एक संयुक्त परिवार का मतलब केवल रहने वाले लोगों का एक समूह नहीं है। साथ में, इसका मतलब है कि ये लोग एक दूसरे के लिए प्यार और देखभाल से बंधे हैं।

देवोलीना साथ निभाना साथिया में गोपी बहू की भूमिका से प्रसिद्ध हुई थी और बाद में बिग बॉस से भी नाम कमाया।

देवोलीना आगामी फिल्म फस्र्ट सेकंड चांस में नजर आएंगी, जिसमें रेनुका शाहेन, अनंत महादेवन, साहिल उप्पल और निखिल संघ भी शामिल हैं।

--आईएएनएस

एचके/आरएचए