त्वचा और आंखों के लिए हानिकारक होती है यूवी किरणें

नई दिल्ली, 15 मई (आईएएनएस)। अगर आपको लगता है कि इस गर्मी में सनस्क्रीन लगाने से सूरज की तेज किरणों से आपकी त्वचा की रक्षा होगी, तो आपको फिर से सोचने की जरुरत है। इसके साथ ही आपको अपनी आंखों पर ध्यान देने की जरुरत है, अल्ट्रा वायलेट (यूवी) किरणें न केवल त्वचा के लिए हानिकारक हैं, बल्कि आंखों को भी नुकसान पहुंचा सकती हैं।
 | 
त्वचा और आंखों के लिए हानिकारक होती है यूवी किरणें नई दिल्ली, 15 मई (आईएएनएस)। अगर आपको लगता है कि इस गर्मी में सनस्क्रीन लगाने से सूरज की तेज किरणों से आपकी त्वचा की रक्षा होगी, तो आपको फिर से सोचने की जरुरत है। इसके साथ ही आपको अपनी आंखों पर ध्यान देने की जरुरत है, अल्ट्रा वायलेट (यूवी) किरणें न केवल त्वचा के लिए हानिकारक हैं, बल्कि आंखों को भी नुकसान पहुंचा सकती हैं।

शार्प साइट आई हॉस्पिटल्स के सीनियर कंसल्टेंट डॉ. दानिश इकबाल ने कहा, यूवी एक्सपोजर को मैकुलर डिजनरेशन, मोतियाबिंद और अन्य ²ष्टि-हानि समस्याओं के साथ जोड़ा गया है।

यदि आपकी आंख की मौजूदा स्थिति ठीक नहीं है जैसे आपकी आंखें लाल हो जाती हैं या फिर आपकी आंखों में मोतियाबिंद है, तो जितना हो सके गर्मियों के दौरान अपनी आखों का खास ध्यान रखें और आंखों को जितना हो सके धूप से बचाएं।

krishna hospital

डॉ. दानिश ने इसको लेकर कुछ आसान टिप्स दिए जो गर्मियों में आपकी आंखों की सुरक्षा करेंगे।

धूप का चश्मा पहनें: 100 प्रतिशत पैराबैंगनी सुरक्षा धूप के चश्मे का प्रयोग करें। कठोर यूवी किरणें आपकी आंखों के लेंस, कॉर्निया और यहां तक कि रेटिना को भी नुकसान पहुंचा सकती हैं। इसलिए जब भी बाहर जाएं तो अपने शेड्स जरूर लगाएं।

आंखों को साफ पानी से धोएं: तेज गर्मी और धूप के संपर्क में आने से आपकी आंखें दिन भर तनाव में रहती हैं। समय-समय पर उन पर ठंडे पानी के छींटे मारे और अपनी आंखों को धोएं। यह आपकी आंखों को शुष्क या फूली हुई होने से बचाए रखेगा।

आंखों के व्यायाम करें: आंखों के व्यायाम से हमें थकान कम करने और आंखों की मांसपेशियों में सुधार करने में मदद मिलती है। रोजाना अपनी आंखों का व्यायाम करने से आपकी आंखों की रोशनी में भी सुधार होता है और बीमारियों और संक्रमणों के होने का खतरा कम होता है।

खीरे के स्लाइस का इस्तेमाल करें: अगर आपको गर्मियों में लाल आंखों से एलर्जी है, तो सोने से पहले 10 मिनट के लिए खीरे के स्लाइस को अपनी पलकों पर लगाएं। खीरा आंखों के नीचे से टैन हटाने में भी मदद करता है और अतिरिक्त नमी को अवशोषित करता है।

आंखों के लिए आई ड्रॉप का इस्तेमाल करें: दर्द को कम करने या आंखों की अन्य समस्याओं को प्रबंधित करने के लिए किसी प्रकार की आंखों की बूंदों का उपयोग करना हमेशा बेहतर होता है। हालांकि, आपको अपनी आई ड्रॉप चुनने से पहले किसी योग्य नेत्र रोग विशेषज्ञ से भी सलाह लेनी चाहिए।

हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन बढ़ाएं: गर्मी के मौसम में हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन बढ़ाएं क्योंकि वे ल्यूटिन और जेक्सैन्थिन दोनों से भरपूर होती हैं और आंखों के अनुकूल विटामिन सी का भी एक अच्छा स्रोत है। पत्तेदार सागों का इस्तेमाल करें।

अच्छी नींद लें: सोते समय आपकी आंखें अपने आप ठीक हो जाती हैं। अपर्याप्त नींद के कारण सूखी, खुजलीदार या पानी बहने वाली आंखें हो सकती हैं। रात में ठीक से नींद न लेने से आंखों में आंसू कम हो जाते हैं और इससे आंखों में संक्रमण का द्वार खुल सकता है।

--आईएएनएस

पीटी/एसकेपी