रायबरेली: सोनिया गांधी ने कोरोना से लड़ने को संसदीय क्षेत्र के लिए सांसद निधि से भेजे 1 करोड़ 17 लाख

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। कोरोना से लड़ने के लिए यूपी की रायबरेली की सांसद और कांग्रेस की वरिष्‍ठ नेता सोनिया गांधी ने अपने संसदीय क्षेत्र के लिए 1 करोड़ 17 लाख रूपए की मदद सांसद निधि से भेजी है। सोनिया गांधी ने रायबरेली के डीएम को पत्र लिखकर यह रकम जिले को सौंपी है। सोनिया गांधी कहा कि लोग कोरोना महामारी सतर्क रहें और नियमों का पालन करके स्‍वास्‍थ्‍य का ध्‍यान रखें।

Devi Maa Dental

डीएम को भेजे पत्र में उन्होंने अपनी सांसद निधि में उपलब्ध पूरी धनराशि कोरोना सुरक्षा में खर्च करने की संस्तुति दी है। सोनिया गांधी ने कहा है कि हमें अपने जिले की जनता की काफी फिक्र है।

इससे पहले शुक्रवार को ही सोनिया गांधी के विरूद्ध 2019 के लोकसभा चुनाव में प्रत्याशी रहे MLC दिनेश सिंह ने भी रायबरेली के DM को पत्र लिखा था कि यदि जनपद में ऑक्सीजन का अभाव है, तो इसे सावर्जनिक करें और निर्धारित करें की जरूरतमंद लोग उस स्थान पर संपर्क कर सकें। 500 बेड के अस्थायी अस्पताल GIC की सेकंड फील्ड पर बनाए। अस्पताल में कूलर, पंखा, लाइट की व्यवस्था पेशकश की है। आने वाले व्यय की आप चिंता न करें, अगर मेरी क्षमता से अधिक होगा तो मैं झोली लेकर रायबरेली में निकलूंगा तो सब पूरा हो जाएगा।

Bansal Saree

एल-2 हॉस्पिटल में 5 ने तोड़ा था दम

कल ही जिले के लालगंज स्थित रेल कोच फैक्ट्री में बने एल-2 हॉस्पिटल में कोरोना के पांच मरीजों ने ऑक्सीजन के अभाव और लापरवाही से दम तोड़ दिया था। इसमें भदोखर थाना क्षेत्र के सुलतानपुर आइमा निवासी अरविंद पाण्डेय के पिता श्याम सुंदर पाण्डेय की मौत हुई थी। उनके बेटे अरविंद का आरोप था कि सुबह 9 बजे से लेकर दोपहर सवा बारह बजे तक भटकता रहा और इलाज के अभाव में उसके पिता ने तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिया था। वहीं महाराजगंज के आशीष ने भी आरोप लगाया था कि शुक्रवार को ऑक्सीजन नहीं मिलने से उनके पिता ने दम तोड़ दिया।