सीबीएसई बोर्ड 10th की परीक्षाएं रद्द, सभी छात्रों को प्रमोट करने का आदेश, 12th एग्‍जाम पर 1 जून को होगा फैसला

प्रमोट करने के फैसले से अभिभावकों में छात्रों के भविष्‍य को लेकर चिंता गहरायी

 | 
12वीं की परीक्षाएं, जो 4 मई से 14 जून तक होनी थीं, उन्हें टाल दिया गया है। CBSE बोर्ड 1 जून को रिव्यू करेगा। इसके बाद 12वीं की परीक्षाओं पर फैसला किया जाएगा। एग्जाम से कम से कम 15 दिन पहले छात्रों को परीक्षाओं की सूचना दी जाएगी।

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। सीबीएसई बोर्ड की दसवीं की परीक्षाओं को कोरोना संक्रमण के चलते रद्द कर दिया गया है। दसवी कक्षा के सभी छात्रों को प्रमोट किया जाएगा। वहीं बारहवीं कक्षा की परीक्षाओं को लेकर भी संशय बना हुआ है। फिलहाल 12वीं की परीक्षाओं को टाल दिया गया है अभी इस पर कोई फैसला नहीं लिया गया है। 2 वीं की परीक्षाओं पर एक जून की बैठक में फैसला लिया जाएगा कि आगे क्‍या करना है। कोरोना संक्रमण के कारण पहले की छात्रों की पढ़ाई चौपट हो गयी है। अब एग्‍जाम टालकर और कक्षाओं में प्रमोट करके छात्रों को पास करने की परंपरा से अभिभावकों में छात्रों के भविष्‍य को लेकर चिंताएं भी प्रबल हो गयी हैं। दरअसल कोरोना संक्रमण के कारण सरकार ने यह फैसला लिया है।

Devi Maa Dental

आज बुधवार को प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक के बीच घंटे भर चली वार्ता बैठक के बाद ये निर्णय सामने आए हैं। इससे पहले कई नेता और राज्य सरकारें CBSE की बोर्ड परीक्षाएं टालने की मांग कर चुके हैं। इनमें दिल्ली और पंजाब भी शामिल हैं।

परीक्षाओं को लेकर ये हुए फैसले

Bansal Saree

1. 12वीं की परीक्षाएं, जो 4 मई से 14 जून तक होनी थीं, उन्हें टाल दिया गया है। CBSE बोर्ड 1 जून को रिव्यू करेगा। इसके बाद 12वीं की परीक्षाओं पर फैसला किया जाएगा। एग्जाम से कम से कम 15 दिन पहले छात्रों को परीक्षाओं की सूचना दी जाएगी।

2. 10वीं की परीक्षाएं कैंसल कर दी गई हैं। ये भी 4 मई से 14 जून तक होनी थीं।

3. 10वीं के छात्र प्रमोट होंगे। बोर्ड इसके लिए एक क्राइटेरिया तय करेगा, जिसके तहत छात्रों को प्रमोशन मिलेगा।

4. अगर कोई छात्र रिजल्ट को लेकर संतुष्ट नहीं है तो उसे परीक्षा देने का मौका दिया जाएगा। ये परीक्षाएं परिस्थितियों के सुधार के बाद ही कराई जाएंगी।

4 मई से होनी थीं CBSE बोर्ड की परीक्षाएं
CBSE की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 4 मई से होनी थीं। ऑल इंडिया स्टूडेंट एसोसिएशन भी 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं को टालने की मांग कर चुकी है। एसोसिएशन की तरफ से शिक्षा मंत्रालय को चिट्ठी लिखी गई थी। छात्रों ने भी सोशल मीडिया पर #CancelBoardExam2021 कैंपेन चलाया है। CBSE की बोर्ड परीक्षाओं में 10वीं और 12वीं को मिलाकर 30 लाख से ज्यादा स्टूडेंट शामिल होने वाले थे।