बरेली: मुकद्दस रमजान, दरगाह आला हजरत की ओर देशवासियों को दी रमजान की मुबारकबाद

रमजान का चांद दिखने पर दरगाह प्रमुख सुब्हानी मियां और सज्जादानशीन अहसन मियां ने दी एहतियात बरतने की सलाह

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। मुक़द्दस माह रमज़ान का चाँद आसमान पर नज़र आते ही  मुबारकबाद का सिलसिला शुरू हो गया। इसी कड़ी में दरगाह प्रमुख हज़रत मौलाना सुब्हान रज़ा खान (सुब्हानी मियां) व सज्जादानशीन मुफ्ती अहसन रज़ा क़ादरी ने मुल्क भर के मुसलमानों को रमज़ान की मुबारकबाद देते हुए कहा कि रमज़ान के रोज़े अल्लाह ने हर मुसलमान आकिल और बालिग पर फ़र्ज़ किये । ये पूरा महीना इबादत है । अल्लाह की रज़ा की खातिर अपने आप को भूख-प्यास और सोहबत से रोके रखना रोज़ा कहलाता है । साथ ही साहिबे निसाब मुसलमानों से इस महीने गरीबों की ज़्यादा से ज़्यादा मदद करने को कहा। ताकि गरीब रोज़ेदार भी सहरी और इफ्तार का इंतेज़ाम कर सके । 

Devi Maa Dental

दरगाह के  सज्जादानशीन मुफ्ती अहसन मियां ने मुल्क में बढ़ते कोरोना मामलों पर फ़िक्र ज़ाहिर करते हुए सभी से एहतियात बरतने की सलाह देते हुए कहा कि अल्लाह इस महीने एक नेकी के बदले 70 नेकियों का सवाब देता है इसलिए मुसलमान इस महीने अपने रब की ख़ुशनूदी की खातिर पूरे महीने के रोज़े रखे, नमाज़ और तरावीह को अपने-अपने वक़्तों पर अदा करें । कुरान की कसरत से इबादत करे । 

दरगाह के मीडिया प्रभारी नासिर कुरैशी ने बताया कि आज दरगाह पर चाँद देखने का एहतिमाम किया गया । चाँद नज़र आते ही सभी ने एक दूसरे को रमज़ान की मुबारकबाद दी। इस मौके पर मुफ्ती सलीम नूरी, कारी रिज़वान रज़ा, परवेज़ नूरी, अजमल नूरी, हाजी जावेद खान, नासिर कुरैशी, शाहिद खान, ताहिर अल्वी, औरंगज़ेब नूरी, सय्यद फैज़ान अली, शान रज़ा, शाद रज़ा, हाजी अब्बास नूरी, अश्मीर रज़ा, तारिक़ सईद, ज़ोहिब रज़ा, सबलू अल्वी, मंज़ूर खान, यूनुस गद्दी, गौहर खान,सय्यद माजिद अली, आलेनबी, नईम नूरी, इशरत नूरी, सय्यद एजाज़, साकिब रज़ा, आसिफ नूरी, जुनैद खान, काशिफ सुब्हानी, सुहैल रज़ा, इरशाद रज़ा, सैफ खान, जावेद खान, आसिफ रज़ा, सय्यद फरहतआदि लोग मौजूद रहे । 

Bansal Saree