कर्नाटक : सोमवार से 10वीं कक्षा की परीक्षा, शामिल होंगे 8.76 लाख छात्र-छात्राएं

बेंगलुरु, 18 जुलाई (आईएएनएस)। कर्नाटक भर में कुल 8.76 लाख छात्र सोमवार और 22 जुलाई को वर्तमान शैक्षणिक वर्ष के लिए 10वीं कक्षा की (एसएसएलसी) परीक्षा देंगे।
 | 
कर्नाटक : सोमवार से 10वीं कक्षा की परीक्षा, शामिल होंगे 8.76 लाख छात्र-छात्राएं बेंगलुरु, 18 जुलाई (आईएएनएस)। कर्नाटक भर में कुल 8.76 लाख छात्र सोमवार और 22 जुलाई को वर्तमान शैक्षणिक वर्ष के लिए 10वीं कक्षा की (एसएसएलसी) परीक्षा देंगे।

कर्नाटक राज्य माध्यमिक शिक्षा परीक्षा बोर्ड (केएसईईबी) द्वारा निर्धारित दो दिवसीय निर्धारित समय सारिणी के अनुसार, 19 जुलाई को मुख्य विषय विज्ञान, गणित और सामाजिक विज्ञान की परीक्षा आयोजित की जाएगी। 22 जुलाई को अन्य भाषाओं की परीक्षा होगी।

कक्षा 10 की परीक्षाओं की अवधि तीन घंटे की होगी और परीक्षाएं ओएमआर (ऑप्टिकल मार्क रिकग्निशन या ऑप्टिकल मार्क रीडिंग) शीट पर आयोजित की जाएंगी, जहां छात्रों से सरल और सीधे प्रश्न पूछे जाएंगे।

Bansal Saree

ओएमआर शीट अलग-अलग रंगों की होंगी, ताकि परीक्षा में बैठने के दौरान छात्रों में कोई भ्रम न हो। इस वर्ष मूल्यांकन प्रक्रिया तेज होने की उम्मीद है, क्योंकि छात्रों के अंकों को अंतिम रूप देने में कोई पारंपरिक तरीका शामिल नहीं है।

इस शैक्षणिक वर्ष के दौरान, कक्षा 10 की परीक्षाओं के लिए कुल 8.76 लाख छात्रों ने पंजीकरण कराया है। भले ही देश भर के विभिन्न राज्य बोडरें ने महामारी की स्थिति के कारण अपनी बोर्ड परीक्षाओं को पहले ही रद्द कर दिया हो। लेकिन, कर्नाटक उन कुछ राज्यों में शामिल है, जो इस साल बोर्ड परीक्षा आयोजित करने के लिए सहमत हुए हैं, क्योंकि मौजूदा बैच के एसएसएलसी छात्रों को पिछले शैक्षणिक वर्ष में महामारी की स्थिति के कारण कक्षा 9 से कक्षा 10 तक पदोन्नत किया गया था।

इसके परिणामस्वरूप, कर्नाटक के शिक्षा मंत्री एस सुरेश कुमार ने दावा किया कि छात्रों की क्षमताओं का आकलन करने के लिए उचित मानदंड के अभाव में, राज्य इस वर्ष की वार्षिक परीक्षा आयोजित करने के लिए मजबूर है।

राज्य सरकार ने कोविड-19 की मौजूदा स्थिति को देखते हुए बच्चों को परीक्षा केंद्रों तक पहुंचाने के लिए परिवहन की भी व्यवस्था की है।

Devi Maa Dental

--आईएएनएस

एमएसबी/एसजीके