राष्ट्रीय राजधानी में कोविड का इलाज कर रहे निजी अस्पतालों पर केन्द्र ने निगरानी के क्या किए हैं इंतजाम, देखें यह खबर…

न्यूज टुडे नेटवर्क। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवाओं का हाल सुधारने के लिए केन्द्र सरकार ने पहल की है। अब केन्द्र की 10 विशेष टीमें निजी अस्पतालों का दौरा करके स्वास्थ्य सेवाओं की जानकारी लेंगी। यह टीमें विशेष रूप से कोविड का इलाज कर रहे निजी अस्पतालों पर नजर रखेंगी। टीमें देखेंगी कि कोविड
 | 
राष्ट्रीय राजधानी में कोविड का इलाज कर रहे निजी अस्पतालों पर केन्द्र ने निगरानी के क्या  किए हैं इंतजाम, देखें यह खबर…

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र में स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं का हाल सुधारने के लिए केन्‍द्र सरकार ने पहल की है। अब केन्‍द्र की 10 विशेष टीमें निजी अस्‍पतालों का दौरा करके स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं की जानकारी लेंगी। यह टीमें विशेष रूप से कोविड का इलाज कर रहे निजी अस्‍पतालों पर नजर रखेंगी। टीमें देखेंगी कि कोविड के प्रसार को रोकने के लिए निजी अस्‍पताल सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन कर रही हैं कि नहीं। दिल्‍ली में कोविड के मरीज बढ़़ने पर अर्द्धसैनिक बलों के 75 डाक्‍टरों और 250 अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को भी भेजा गया है।

Bansal Saree

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में रविवार को उच्च स्तरीय बैठक हुई जिसमें लिए गए फैसले के तहत बहु-विषयक टीमों का गठन किया गया है। केंद्रीय मंत्री के 12 निर्देशों को लागू करने के लिए सरकार की विभिन्न इकाइयों ने सोमवार को कई बैठकें की। एक सूत्र ने बताया कि कोविड-19 से निपटने के लिए दिल्ली के स्वास्थ्य कर्मियों के साथ 75 डॉक्टर और 250 स्वास्थ्यकर्मी भी जल्द जुड़ेंगे।

डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मी अर्द्धसैन्य बलों से भेजे गए हैं। वे असम, तमिलनाडु के अलावा गुजरात, मध्यप्रदेश, उत्तराखंड, राजस्थान आदि राज्यों से दिल्‍ली भेजे गए हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने नव गठित टीमों को कोविड-19 मरीजों का उपचार कर रहे 114 निजी अस्पतालों का दौरा कर स्थिति का निरीक्षण करने का काम सौंपा है। आदेश में कहा गया कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली के सभी निजी अस्पतालों में ये टीम दौरा करेंगी और वायरस के प्रसार को रोकने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय तथा दिल्ली सरकार द्वारा जारी विभिन्न दिशा-निर्देशों के अनुपालन की स्थिति पर नजर बनाए रखेंगी।

Devi Maa Dental

इन 10 टीमों के अलावा एक अतिरिक्त टीम भी गठित की गयी है और उसे जरूरत होने पर तैयार रहने को कहा गया है। ये टीम निजी अस्पतालों का दौरा कर, दिल्ली सरकार के आदेश के तहत वार्ड और आईसीयू बेड की उपलब्धता, बेड के बारे में दी जाने वाली सूचना और पालन किए जाने वाले नियमों की स्थिति का आंकलन करेंगी। उधर छतरपुर कोविड देखभाल केंद्र को मजबूत करने के साथ ऑक्सीजन बेड की संख्या में बढोतरी के इंतजाम किए जा रहे हैं। केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला, भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के अधिकारियों, रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ), दिल्ली सरकार और नगर निगमों ने कोविड-19 की रोकथाम के संबंध में 12 निर्देशों को ठीक तरीके से लागू करने के संबंध में अलग अलग बैठकें की।