यूपी विधानसभा उपाध्यक्ष का 18 अक्टूबर को होगा चुनाव

लखनऊ, 13 अक्टूबर(आईएएनएस)। यूपी विधानसभा के 18वें उपाध्यक्ष के चुनाव के लिए 17 अक्टूबर को नामांकन किया जाएगा।
 | 
यूपी विधानसभा उपाध्यक्ष का 18 अक्टूबर को होगा चुनाव लखनऊ, 13 अक्टूबर(आईएएनएस)। यूपी विधानसभा के 18वें उपाध्यक्ष के चुनाव के लिए 17 अक्टूबर को नामांकन किया जाएगा।

जरूरत पड़ने पर 18 अक्टूबर को विधानसभा में मतदान होगा। विधानसभा सचिवालय ने उपाध्यक्ष चुनाव का कार्यक्रम जारी किया है।

विधानसभा के प्रमुख सचिव प्रदीप दुबे ने बताया कि विधानसभा उपाध्यक्ष चुनाव के लिए 17 अक्तूबर को सुबह 11 से दोपहर एक बजे तक नामांकन होगा। उन्होंने कहा कि उपाध्यक्ष चुनाव के लिए नामांकन पत्र विधानसभा सचिव के कक्ष से मिलेगा। कोई भी सदस्य नामांकन पत्र भरकर विधानसभा सचिव के समक्ष जमा कर सकता है।

Bansal Saree

विधानसभा सचिवालय की ओर से जारी कार्यक्रम के अनुसार एक दिवसीय सत्र में औपचारिक कार्य के साथ सरकार अध्यादेशों, अधिसूचनाओं और नियमों को सदन के पटल पर रखा जा सकता है। विधेयकों का पुनस्र्थापन भी प्रस्तुत किया जा सकता है।

विधानसभा के 18 अक्तूबर को आयोजित एक दिनी सत्र में कई विधेयक रखे जाएंगे। इसमें उत्तर प्रदेश औद्योगिक शांति (मजदूरी का यथासमय संदाय) (संशोधन) अध्यादेश-2021 और उत्तर प्रदेश अध्यादेश संख्या सात सन 2021 को मंजूरी के लिए रखा जाएगा।

विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित द्वारा अंतिम रूप से स्वीकृत कर दिया गया है। औचारिक कार्य, यथा अध्यादेश, अधिसूचनाओं, नियमों आदि को सदन के पटल पर रखा जाएगा।

सूत्रों के अनुसार भाजपा की ओर से विधानसभा उपाध्यक्ष के लिए नितिन अग्रवाल के नाम पर सहमति बनी है। समाजवादी पार्टी, भाजपा समर्थित नितिन अग्रवाल का विरोध कर सकती है। हालांकि इसका निर्णय सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव करेंगे। इस बीच 18 अक्टूबर को उपाध्यक्ष का चुनाव कराने की विधानसभा सचिवालय ने तैयारी शुरू कर दी है। उधर, भाजपा ने पार्टी के सभी विधायकों को सोमवार को लखनऊ बुलाया है।

Devi Maa

हरदोई से सपा विधायक नितिन अग्रवाल के पिता नरेश अग्रवाल भाजपा में शामिल हो चुके हैं। 2018 में हुए राज्यसभा चुनाव में नितिन ने भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में वोटिंग की थी। आगामी विधानसभा चुनाव में भी नितिन के भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ने की प्रबल संभावना है।

बसपा विधानमंडल दल के नेता शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली ने कहा कि उन्हें विधानसभा का सत्र आहूत किए जाने की सूचना प्राप्त हुई है, लेकिन एजेंडा नहीं मिला है। विधानसभा उपाध्यक्ष सरकार का विषय है, सरकार जिसे चाहे बनाए।

--आईएएनएस

विकेटी/एएनएम