मंत्री ने अहमदाबाद में जगन्नाथ यात्रा के लिए सुरक्षा उपायों की समीक्षा की

अहमदाबाद, 23 जून (आईएएनएस)। 145वीं जगन्नाथ यात्रा अहमदाबाद में 16 किलोमीटर की दूरी तय करेगी और 1 जुलाई को शहर के संवेदनशील इलाकों से गुजरेगी। सुरक्षित जुलूस के लिए सरकार ने भारी सुरक्षा मुहैया कराने का फैसला किया है।
 | 
मंत्री ने अहमदाबाद में जगन्नाथ यात्रा के लिए सुरक्षा उपायों की समीक्षा की अहमदाबाद, 23 जून (आईएएनएस)। 145वीं जगन्नाथ यात्रा अहमदाबाद में 16 किलोमीटर की दूरी तय करेगी और 1 जुलाई को शहर के संवेदनशील इलाकों से गुजरेगी। सुरक्षित जुलूस के लिए सरकार ने भारी सुरक्षा मुहैया कराने का फैसला किया है।

गुरुवार दोपहर गृह राज्य मंत्री हर्ष सांघवी ने पूरे जुलूस की सुरक्षा तैयारियों की समीक्षा के लिए एक बैठक की अध्यक्षता की। सांघवी ने जगन्नाथ मंदिर के न्यासियों को आश्वासन दिया कि पर्याप्त पुलिस सुरक्षा मुहैया कराई जाएगी। उन्होंने न्यासियो से कहा, फिर भी, अगर आपको कोई जरूरत महसूस होती है, तो आप मुझे किसी भी समय कॉल कर सकते हैं।

krishna hospital

पुलिस आयुक्त संजय श्रीवास्तव के अनुसार जुलूस की निगरानी, आठ महानिरीक्षक, 30 पुलिस अधीक्षक और सहायक पुलिस आयुक्त करेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य रिजर्व पुलिस बल और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की कम से कम 69 कंपनियां भी तैनात की जाएंगी।

किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए करीब 25,000 पुलिस, अर्धसैनिक बल के जवानों को मार्ग पर तैनात किया जाएगा।

पुलिस जवानों को बॉडी कैमरा, ड्रोन और फेस डिटेक्शन गैजेट्स से लैस किया जाएगा, जिनका इस्तेमाल लोगों की आवाजाही और गतिविधियों पर नजर रखने के लिए किया जाएगा। यात्रा की बारीकी से निगरानी के लिए कंट्रोल रूम को लाइव फीड मिलेगी।

मार्ग के साथ, पुलिस कांस्टेबलों को दूरबीन से लैस घरों और व्यावसायिक परिसरों की छतों पर तैनात किया जाएगा।

chaitanya

बुधवार की रात पुलिस ने आपात स्थितियों का मॉक ड्रिल किया और स्थिति पर त्वरित प्रतिक्रिया दी।

किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए पिछले कुछ वर्षों से विभिन्न अखाड़ों को दरियापुर के पोपटियावाड़ और शाहपुर के रंगीला पुलिस चौकी क्षेत्र जैसे संवेदनशील क्षेत्रों से गुजरने की अनुमति नहीं है। शहर पुलिस के अनुरोध पर, अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्य स्वेच्छा से उस दिन जनता कर्फ्यू का पालन करते हैं।

--आईएएनएस

आरएचए/एएनएम