बिहार में करंट की चपेट में आने से एसएसबी के 3 जवानों की मौत (लीड-1)

सुपौल, 14 जनवरी (आईएएनएस)। बिहार के सुपौल में शुक्रवार को बिजली करंट की चपेट में आने से सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) की 45 वीं बटालियन के 3 जवानों की मौत हो गई, जबकि 9 जवान घायल हो गए। घायलों में चार की हालत गंभीर बताई जा रही है।
 | 
बिहार में करंट की चपेट में आने से एसएसबी के 3 जवानों की मौत (लीड-1) सुपौल, 14 जनवरी (आईएएनएस)। बिहार के सुपौल में शुक्रवार को बिजली करंट की चपेट में आने से सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) की 45 वीं बटालियन के 3 जवानों की मौत हो गई, जबकि 9 जवान घायल हो गए। घायलों में चार की हालत गंभीर बताई जा रही है।

सुपौल के पुलिस अधीक्षक डी अमरकेश ने तीन जवानों की मौत की पुष्टि करते हुए कहा कि वीरपुर एसएसबी कैंप में हुए बिजली करंट लगने से तीन जवानों की मौत हुई है।

एसएसबी के एक अधिकारी ने बताया कि एसएसबी के 45 वीं बटालियन के परिसर में कुछ दिन पूर्व लगे एक टेंट को शुक्रवार कुछ जवान हटा रहे थे। बताया जा रहा है कि इसी दौरान एक पाइप, उपर से गुजर रही 11 हजार वोल्टेज की तार के संपर्क में आ गई, जिससे यह बड़ा हादसा हो गया। इस घटना में तीन लोगों की मौत हो गई जबकि नौ लोग घायल हो गए।

Bansal Saree

अधिकारी ने बताया कि मृतकों की पहचान उत्तर प्रदेश के परशुराम सबर, ओडिशा के महेंद्र चन्द्र कुमार तथा महाराष्ट्र के नासिक के अनमोल पाटिल के रूप में हुई है।

उन्होंने बताया कि इस दुर्घटना में नौ लोग झुलसकर घायल हो गए हैं, जिन्हें इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। घायलों में 4 की हालत गंभीर बनी हुई है, जिन्हें बेहतर इलाज के लिए दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया गया है। करंट की चपेट में आने वाले कई प्रशिक्षु बताए जा रहे हैं।

घटना को लेकर कोई अधिकारी बहुत कुछ बोलने को तैयार नहीं हैं।

एसएसबी की ओर से बताया जा रहा है कि कैंप के उपर से हाईटेंशन तार गुजरी है, उसे हटाने को लेकर कई बार बिजली विभाग के अधिकारियों को पत्र लिखा गया, लेकिन बिजली विभाग के अधिकारियों द्वारा बिजली तार नहीं हटाया गया। जिससे यह हादसा हुआ है।

Devi Maa

इधर, धटना के बाद से एसएसबी 45 वीं बटालियन के कमांडेंट आलोक कुमार सहित कई वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पहुंच गए हैं और मामले की जांच कर रहे हैं।

--आईएएनएस

एमएनपी/एएनएम