ट्विटर पर भिड़े अशोक गहलोत के ओएसडी और योगी आदित्यनाथ के सलाहकार

जयपुर, 14 अक्टूबर (आईएएनएस)। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के विशेष कार्य अधिकारी (ओएसडी) लोकेश शर्मा और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी के बीच राजस्थान के हनुमानगढ़ में दलित युवक की हत्या के मुद्दे पर ट्विटर पर तीखी बयानबाजी देखने को मिली है।
 | 
ट्विटर पर भिड़े अशोक गहलोत के ओएसडी और योगी आदित्यनाथ के सलाहकार जयपुर, 14 अक्टूबर (आईएएनएस)। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के विशेष कार्य अधिकारी (ओएसडी) लोकेश शर्मा और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी के बीच राजस्थान के हनुमानगढ़ में दलित युवक की हत्या के मुद्दे पर ट्विटर पर तीखी बयानबाजी देखने को मिली है।

त्रिपाठी ने अशोक गहलोत के बयान का 13 सेकंड का हिस्सा ट्वीट करते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी पर निशाना साधा। उन्होंने लिखा, ईमानदारी से सच्चाई को स्वीकार करने के लिए आभार आदरणीय अशोक गहलोत जी, सच ही कहा आपने, हर लाश पर महज वोटों की खेती करने वाले राजस्थान क्यूं जाएंगे भला, उनको तो केवल राजनीति करनी है। उनसे संवेदना की उम्मीद करना बेवकूफी ही तो है।

Bansal Saree

शलभ मणि के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए गहलोत के ओएसडी लोकेश शर्मा ने विस्तारित वीडियो (सीएम गहलोत का लगभग 32 सेकंड का बयान) पोस्ट किया और लिखा, माननीय मुख्यमंत्री की पूरी बात ये है.. महाशय आप उसका 13 सेकंड का हिस्सा निकालकर गलत तथ्य पेश कर रहे हैं। आपसे आग्रह है कि कृपया झूठ न फैलाएं।

भाजपा कांग्रेस पर हमला करती रही है और पार्टी से सवाल करती रही है कि कांग्रेस की दिग्गज नेता प्रियंका गांधी वाड्रा और राहुल गांधी कभी ऐसे मुद्दों पर राजस्थान क्यों नहीं जाते और इसके बजाय वे उत्तर प्रदेश चले जाते हैं।

हाल ही में हनुमानगढ़ जिले में एक दलित व्यक्ति की कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी।

Devi Maa Dental

भाजपा के सवालों पर पलटवार करते हुए गहलोत ने कहा था, प्रियंका गांधी वाड्रा और राहुल गांधी उन राज्यों का दौरा करेंगे जहां विपक्षी सरकारें हैं। राजस्थान में अमित शाह और जे. पी. नड्डा जैसे भाजपा नेताओं को आना चाहिए, क्योंकि यहां कांग्रेस की सरकार है।

इस बयान के बाद शर्मा और त्रिपाठी के बीच ताजा वाकयुद्ध शुरू हो गया।

--आईएएनएस

एकेके/आरजेएस