केरल में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहन देने के लिए इंसेटिव देने की तैयारी

तिरुवनंतपुरम, 9 सितम्बर (आईएएनएस)। कांग्रेस पार्टी में नए प्रदेश अध्यक्ष के. सुधाकरन के अंतर्गत पार्टी का एक मेकओवर चल रहा है, जिसके अंतर्गत पार्टी अपने रैंक को वशेष रूप से पूर्ण पार्टी कार्यकर्ताओं को मासिक प्रोत्साहन देने पर विचार कर रही है।
 | 
केरल में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहन देने के लिए इंसेटिव देने की तैयारी तिरुवनंतपुरम, 9 सितम्बर (आईएएनएस)। कांग्रेस पार्टी में नए प्रदेश अध्यक्ष के. सुधाकरन के अंतर्गत पार्टी का एक मेकओवर चल रहा है, जिसके अंतर्गत पार्टी अपने रैंक को वशेष रूप से पूर्ण पार्टी कार्यकर्ताओं को मासिक प्रोत्साहन देने पर विचार कर रही है।

इसके पहले संकेत 14 नवनिर्वाचित जिला पार्टी अध्यक्षों के लिए पार्टी की चल रही कार्यशाला में देखे गए।

कार्यशाला में चर्चा और विचार-विमर्श के लिए जो दिशा-निर्देश दिए गए हैं उनमें पूर्णकालिक पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए प्रोत्साहन राशि का भुगतान शामिल है।

एक और आलोचना जिसका पार्टी सामना कर रही है, वह यह है कि पार्टी के कार्यक्रमों में दर्शकों की तुलना में मंच पर अधिक लोग बैठे होते हैं और यह उपहास का एक स्थायी स्रोत बन गया है।

Bansal Saree

अब से पार्टी, खासकर पार्टी कार्यक्रमों के आयोजकों को यह देखेगी कि ऐसी स्थिति दोबारा उत्पन्न न हो।

एक अन्य दिशानिर्देश यह दिए गए हैं कि पार्टी के भीतर मुद्दों को हल करने के लिए जिला स्तरीय अनुशासनात्मक समितियों का गठन करना चाहिए और किसी को भी सड़कों पर कट आउट लगाकर स्वयं प्रचार में शामिल नहीं होना चाहिए।

सुधाकरन एक आश्चर्यजनक विकल्प के तौर पर उभरे और पार्टी के पूर्व गुट प्रबंधकों को ज्यादा महत्व नहीं दिया गया, जिसमें ओमन चांडी और रमेश चेन्नीथला शामिल थे।

कार्यभार संभालने के तुरंत बाद, सुधाकरन ने पार्टी में अनुशासन लागू करने की आवश्यकता पर बात की और उन्होंने कहा कि अगर पार्टी को अपनी खोई हुई जमीन फिर से हासिल करने की जरूरत है, तो उसे सेमी कैडर पार्टी के रूप में काम करना होगा।

Devi Maa Dental

कांग्रेस के दिग्गज नेता और कासरगोड के लोकसभा सदस्य राजमोहन उन्नीथन ने कहा कि अगर पार्टी को केरल में आगे बढ़ना है तो बड़े बदलाव करने होंगे।

उन्नीथन ने कहा, अनुशासन होना चाहिए और इसके लिए स्पष्ट दिशा-निर्देश होने चाहिए। आज केरल में पार्टी में बदलाव की जरूरत है और सभी इसका स्वागत करेंगे।

--आईएएनएस

आरएचए/आरजेएस