कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति से मिला, गृह राज्यमंत्री टेनी को हटाने की मांग की

नई दिल्ली, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार सुबह राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त करने की मांग की, ताकि लखीमपुर खीरी हिंसा की स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच हो सके। हिंसा में आठ लोगों की जान गई थी।
 | 
कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति से मिला, गृह राज्यमंत्री टेनी को हटाने की मांग की नई दिल्ली, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार सुबह राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त करने की मांग की, ताकि लखीमपुर खीरी हिंसा की स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच हो सके। हिंसा में आठ लोगों की जान गई थी।

प्रतिनिधिमंडल में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के अलावा मल्लिकार्जुन खड़गे, गुलाम नबी आजाद, ए.के. एंटनी और प्रियंका गांधी वाड्रा शामिल थीं।

कांग्रेस ने 9 अक्टूबर को कोविंद से मिलने के लिए समय मांगा था। उसे बुधवार को राष्ट्रपति भवन की ओर से 11.30 बजे का समय दिया गया था।

Bansal Saree

प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति के साथ लखीमपुर खीरी हिंसा में किसानों की मौत की जांच और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री टेनी को हटाने के लिए दबाव बनाने पर विस्तार से चर्चा की।

कोविंद से मुलाकात के बाद खड़गे ने कहा कि प्रियंका गांधी वाड्रा और राहुल गांधी को प्रतिनिधिमंडल में शामिल किया गया, क्योंकि वे पीड़ितों के परिवारों से मिल चुके हैं।

उन्होंने कहा, हमने इस मामले में राष्ट्रपति से हस्तक्षेप की मांग की है और एक ज्ञापन सौंपा है।

वायनाड के सांसद ने कहा कि पीड़ितों के परिवार न्याय और दोषियों को सजा देने की मांग कर रहे हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि पीड़ित परिवार इस बात को लेकर चिंतित हैं कि उन्हें न्याय नहीं मिल पाएगा, क्योंकि आरोपी के पिता केंद्रीय मंत्री हैं।

Devi Maa Dental

उन्होंने इस घटना की जांच सर्वोच्च न्यायालय के मौजूदा न्यायाधीश से कराने की मांग की।

प्रियंका गांधी ने पीड़ित परिवारों की कुछ चिंताओं को साझा किया। उन्होंने कहा कि जब तक कथित आरोपी के पिता मंत्री पद पर हैं, तब तक निष्पक्ष जांच की उम्मीद नहीं की जा सकती।

उन्होंने आरोप लगाया, अगर आप गरीब हैं और एक महिला हैं तो आपको न्याय नहीं मिल सकता, लेकिन अगर आप भाजपा के मंत्री हैं तो देश का कानून आप पर लागू नहीं होता।

कांग्रेस ने टेनी को हटाने के लिए देशव्यापी आंदोलन शुरू कर दिया है।

मंगलवार को प्रियंका हिंसा में मारे गए किसानों के अंतिम संस्कार के दौरान मौजूद थीं।

इस हिंसा में किसान और एक पत्रकार समेत आठ लोगों की जान चली गई थी।

यह घटना तब हुई, जब उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और केंद्रीय मंत्री के काफिले के एक वाहन ने कथित तौर प्रदर्शनकारी किसानों को कुचल दिया।

इस घटना के बाद कई लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है और मामले की जांच की जा रही है।

--आईएएनएस

एसजीके/एएनएम