कर्नाटक में चिंता का विषय बनता जा रहा है गलत कोविड निगेटिव रिपोर्ट

बेंगलुरू ,16 जुलाई (आईएएनएस)। बेंगलुरू स्थित सरकार द्वारा संचालित जयनगर जनरल अस्पताल में आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट निगेटिव आने और सीटी स्कैन की रिपोर्ट में कोविड के लक्षणों की पुष्टि करने वाले आठ मामले अने के बाद स्वास्थ्य अधिकारियों की चिंताएं बढ़ गई हैं।
 | 
कर्नाटक में चिंता का विषय बनता जा रहा है गलत कोविड निगेटिव रिपोर्ट बेंगलुरू ,16 जुलाई (आईएएनएस)। बेंगलुरू स्थित सरकार द्वारा संचालित जयनगर जनरल अस्पताल में आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट निगेटिव आने और सीटी स्कैन की रिपोर्ट में कोविड के लक्षणों की पुष्टि करने वाले आठ मामले अने के बाद स्वास्थ्य अधिकारियों की चिंताएं बढ़ गई हैं।

विशेषज्ञ इन रोगियों की जीनोमिक सीक्वेंसिंग की आवश्यकता पर जोर देते हैं ताकि यह जांचा जा सके कि वे किसी अगल प्रकार के बीमारियों से प्रभावित हैं या नहीं।

Bansal Saree

बाते दें कि पिछले सप्ताह में अस्पताल में आठ में से दो मरीजों की मौत हो गई। अस्पताल के अधिकारियों ने भी माना है कि शहर में कोविड की दूसरी लहर के थमने के बाद यह गंभीर चिंता का विषय है।

हालांकि, डॉ सी.एन. प्रयोगशाला और परीक्षण के लिए नोडल अधिकारी मंजूनाथ ने कहा कि राज्य भर में 5 से 8 प्रतिशत मामलों में ऐसा हो रहा है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों के आरटी-पीसीआर परीक्षण नकारात्मक हैं, लेकिन सीटी स्कैन परीक्षा में कोविड संक्रमण के लक्षण पाए जाते हैं, तो उन्हें कोविड रोगी माना जाएगा।

Devi Maa Dental

अस्पताल नेगेटिव रिपोर्ट के बावजूद कोविड के लक्षण वाले मरीजों को सीटी स्कैन टेस्ट कराने की सलाह दे रहे हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि इस संबंध में टेस्ट किट की गुणवत्ता भी मायने रखती है।

हालांकि, कोविड संक्रमण को लेकर झूठी निगेटिव रिपोर्ट लोगों के लिए चिंता का विषय बन गई है।

--आईएएनएस

आरजेएस