ओडिशा के मुख्यमंत्री ने कालिया योजना के तहत किसानों को 743 करोड़ रुपये बांटे

भुवनेश्वर, 11 सितम्बर (आईएएनएस)। नुआखाई उत्सव के अवसर पर ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने शनिवार को कृषक असिस्टेंस फॉर लाइवलीहुड एंड इनकम ऑग्मेंटेशन (कालिया) योजना के तहत किसानों को 742.58 करोड़ रुपये वितरित किए।
 | 
ओडिशा के मुख्यमंत्री ने कालिया योजना के तहत किसानों को 743 करोड़ रुपये बांटे भुवनेश्वर, 11 सितम्बर (आईएएनएस)। नुआखाई उत्सव के अवसर पर ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने शनिवार को कृषक असिस्टेंस फॉर लाइवलीहुड एंड इनकम ऑग्मेंटेशन (कालिया) योजना के तहत किसानों को 742.58 करोड़ रुपये वितरित किए।

मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) ने एक विज्ञप्ति में कहा कि रबी फसल के मौसम के लिए 37,12,914 छोटे और सीमांत किसानों में से सभी के बैंक खातों में 2,000 रुपये की राशि हस्तांतरित की गई है।

उन्होंने कहा कि कालिया योजना किसानों के कल्याण के लिए देश की सबसे अच्छी योजना है। भूमिहीन किसानों को सहायता प्रदान करने वाला ओडिशा देश का एकमात्र राज्य है।

Bansal Saree

कालिया योजना के तहत लाखों छोटे किसानों को फायदा मिल रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने इस योजना के तहत किसानों को कोविड -19 महामारी के प्रकोप के बाद से 3,200 करोड़ रुपये से अधिक प्रदान किए हैं।

पटनायक ने सहायता वितरण करते हुए कहा, किसानों की समस्याएं हम सब की और राज्य की समस्याएं हैं। इसलिए उनकी मांगों को कभी भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वह राज्य में उर्वरकों की कमी को दूर करने के लिए केंद्र सरकार के संपर्क में हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने कई बार न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) और फसल बीमा से जुड़े मुद्दों पर भी केंद्र का ध्यान आकर्षित किया है।

यह कहते हुए कि उनकी सरकार हमेशा किसानों के साथ है, पटनायक ने कहा कि राज्य ने अगस्त में कम बारिश दर्ज की है। हालांकि, उन्होंने उम्मीद जताई कि आने वाले दिनों में स्थिति में सुधार होने की संभावना है क्योंकि राज्य में आजकल बारिश की गतिविधियां देखी जा रही हैं।

Devi Maa Dental

राज्य के कुछ हिस्सों में सूखे की स्थिति पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार स्थिति की निगरानी कर रही है और क्षेत्र स्तर के कृषि अधिकारियों को किसानों के संपर्क में रहने और स्थिति पर कड़ी नजर रखने के लिए कहा गया है। उन्होंने किसानों को कृषि विभाग की सलाह पर काम करने की सलाह दी।

--आईएएनएस

एसएस/एएनएम