एनसीईआरटी की किताबें पढ़कर दिल्ली के छात्र ने किया जेईई मेंस में टॉप

दिल्ली, 15 सितंबर (आईएएनएस)। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी यानी एनटीए ने जेईई मेंस परीक्षा के चारों चरण का परिणाम घोषित कर दिया है। चौथे चरण में 44 छात्रों ने शत प्रतिशत अंक हासिल किए हैं। वहीं चारों चरण में 18 छात्र जेईई मेंस परीक्षाओं में नंबर वन रैंक हासिल करने में कामयाब रहे हैं। टॉप करने वाले इन 18 छात्रों में से 2 छात्र दिल्ली रीजन के हैं।
 | 
एनसीईआरटी की किताबें पढ़कर दिल्ली के छात्र ने किया जेईई मेंस में टॉप दिल्ली, 15 सितंबर (आईएएनएस)। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी यानी एनटीए ने जेईई मेंस परीक्षा के चारों चरण का परिणाम घोषित कर दिया है। चौथे चरण में 44 छात्रों ने शत प्रतिशत अंक हासिल किए हैं। वहीं चारों चरण में 18 छात्र जेईई मेंस परीक्षाओं में नंबर वन रैंक हासिल करने में कामयाब रहे हैं। टॉप करने वाले इन 18 छात्रों में से 2 छात्र दिल्ली रीजन के हैं।

दिल्ली के रुचिर बंसल ने ज्वाइंट एंट्रेस एग्जामनेशन में टॉप किया है। उन्होंने ने जेईई मेंस परीक्षा में 100 फीसदी अंक हासिल किए हैं। रुचिर ने जेईई मेंस परीक्षा में 300 में 300 प्राप्त किए।

रुचिर के मुताबिक उन्होंने तैयारी करने के लिए एनसीईआरटी की किताबें पढ़ी हैं। पढ़ाई का शेड्यूल प्रतिदिन दस घंटे से अधिक का था। रुचिर अब जेईई एडवांस परीक्षा में भी टॉप करना चाहते हैं। वह आगे की पढ़ाई आईआईटी से करने की इच्छा रखते हैं। उनकी पहली पसंद आईआईटी दिल्ली है। रुचिर ने अपनी स्कूलिंग दिल्ली के प्रतिष्ठित संस्कृति स्कूल से की है। रुचिर के पिता आइआरएस अधिकारी और मां गृहिणी हैं।

Bansal Saree

रुचिर ने 12वीं कक्षा में 98 प्रतिशत अंक हासिल किए थे। रुचिर ने बताया कि उनका परिवार अप्रैल महीने में कोरोना की चपेट में आ गया था। इससे उन्हें तैयारी करने में समस्या पेश आई। हालांकि अपने इरादों में अडिग रुचिर ने ऐसी स्थिति में भी कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी। इसका नतीजा यह रहा कि वह जेईई मेंस परीक्षा में टॉपर बने। रुचिर अपनी इस सफलता का श्रेय अपने माता-पिता और शिक्षकों को देते हैं।

वहीं जेईई मेंस के लिए राजस्थान केंद्र से परीक्षा में शामिल हुए अंशुल वर्मा ने भी जेईई मेंस परीक्षा में 300 में से 300 अंक हासिल किए हैं। अंशुल वर्मा का अंक प्रतिशत 100 फीसदी है। उन्होंने जेईई मेंस के तीसरे सेशन में यह अंक हासिल किए थे।

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने आधिकारिक जानकारी देते हुए बताया कि टॉप करने 18 छात्रों में दिल्ली से रुचिर बंसल और काव्या चोपड़ा शामिल हैं। कर्नाटक के गौरब दास, बिहार के वैभव विशाल, आंध्र प्रदेश के डी वैंकटा पनीस, राजस्थान के सिद्धांत मुखर्जी, उत्तर प्रदेश के अमिया सिंघल, राजस्थान से मृदुल अग्रवाल, तेलंगाना से कोम्मा, तेलंगाना से ही वेंकट आदित्य, महाराष्ट्र से अभिजीत टांबट, आंध्र प्रदेश से ही वीरा सिलवा, आंध्र प्रदेश के राहुल नायडू और कर्णम लोकेश शामिल हैं।

Devi Maa Dental

इनके अलावा इन 18 छात्रों में पंजाब से क्षेत्र से पुलकित गोयल, उत्तर प्रदेश से पाल अग्रवाल, चंडीगढ़ से गुरमीत सिंह और राजस्थान से अंशुल वर्मा भी शामिल हैं।

देशभर के आईआईटी संस्थानों में प्रवेश के लिए जेईई (एडवांस्ड) 2021 की परीक्षा इस वर्ष 3 अक्टूबर, 2021 को आयोजित की जाएगी।

जेईई मेंस के चारों सत्रों में से 2.5 लाख सफल छात्रों को जेईई एडवांस परीक्षा देने का मौका मिलेगा। जेईई एडवांस परीक्षा के नतीजों के देश की 23 आईआईटी, 31 एनआईटी, 23 ट्रिपल आईटी, सहित जेएफटीआई की 40 हजार से अधिक सीटों पर दाखिले होंगे।

--आईएएनएस

जीसीबी/एएनएम