इंस्टाग्राम यूजर्स अब हटा सकेंगे कमेंट्स का विकल्प,भद्दे कमेंट्स पर लगेगी रोक

सैन फ्रांसिस्को, 21 जुलाई (आईएएनएस)। फेसबुक ने इंस्टाग्राम यूजर्स के लिए नया फीचर रोल आउट किया गया है। इस नए फीचर में दिए गए सेटिंग्स में बदलाव करके यूजर अपने एक्सप्लोर टैब में आने वाले सेंसेटिव यानि भद्दे कमेंट्स पर रोक लगा सकेंगे। यूजर के पास कमेंट का विकल्प हटाने की सेंटिंग्स का ऑप्शन भी मिलेगा।
 | 
इंस्टाग्राम यूजर्स अब हटा सकेंगे कमेंट्स का विकल्प,भद्दे कमेंट्स पर लगेगी रोक सैन फ्रांसिस्को, 21 जुलाई (आईएएनएस)। फेसबुक ने इंस्टाग्राम यूजर्स के लिए नया फीचर रोल आउट किया गया है। इस नए फीचर में दिए गए सेटिंग्स में बदलाव करके यूजर अपने एक्सप्लोर टैब में आने वाले सेंसेटिव यानि भद्दे कमेंट्स पर रोक लगा सकेंगे। यूजर के पास कमेंट का विकल्प हटाने की सेंटिंग्स का ऑप्शन भी मिलेगा।

इंस्टाग्राम का यह सेंसेटिव कमेंट कंट्रोल फीचर यूजर को किसी से इंटरैक्शन के दौरान कमेंट को बंद करने का विकल्प देगा।

Bansal Saree

इंस्टाग्राम ने मंगलवार को एक बयान में कहा, यह नई सुविधा आपको संवेदनशील मैसेज पर नियंत्रण लगाने की परमिशन देती है। आप चीजों को वैसे ही छोड़ने का फैसला कर सकते हैं। जैसे वे हैं या कुछ प्रकार की संवेदनशील सामग्री को कम या ज्यादा देखने के लिए आप संवेदनशील चीजों को नियंत्रण को वेल एडजस्ट कर सकते हैं।

अपना सेंसिटिविटी कंन्टेट कंट्रोल को देखने के लिए, अपनी प्रोफाइल पर जाएं, ऊपरी दाएं कोने में सेटिंग मेनू पर टैप करें, अकाउंट टैप करें, फिर सेंसेटिव कमेंट कंट्रोल पर टैप करें।

Devi Maa Dental

यूजर्स यह तय कर सकते हैं कि सेटिंग को उसकी डिफॉल्ट स्थिति में रखा जाए या नहीं, सीमा, या अधिक देखने के लिए, अनुमति दें, या कुछ प्रकार की संसेंसेटिव कमेंट को कम करें, और भी सीमित करें।

फेसबुक ने कहा, आप किसी भी समय अपना सेंटिंग्स बदल सकते हैं। इसका 8 साल से कम उम्र के लोगों के लिए अनुमति विकल्प उपलब्ध नहीं होगा।

सोशल नेटवर्क ने कहा कि उसके सामुदायिक दिशानिर्देश यह रेखांकित करते हैं कि इंस्टाग्राम पर किस तरह की सामग्री हो सकती है, और इन दिशानिदेशरें का उद्देश्य लोगों को सुरक्षित रखना है।

कंपनी ने कहा कि हम अभद्र भाषा, बदमाशी या अन्य सामग्री की अनुमति नहीं देते हैं। जो लोगों को नुकसान पहुंचाने का जोखिम पेश कर सकती हैं। हमारे पास इस बारे में भी नियम यह हैं कि हम आपको एक्सप्लोर जैसी जगहों पर किस तरह की सामग्री दिखाते हैं; हम इन्हें अपने अनुशंसा दिशानिर्देश कहते हैं।

--आईएएनएस

एनपी/आरजेएस